14.9 C
New York
Wednesday, October 20, 2021

Buy now

Haldwani sonu murder case : मालिक की वीबी को पाने के लिए कर्मचारी बन गया कातिल। फिर ऐसे दिया वारदात को अंजाम

सौरभ बजाज, हल्द्वानी।

दो दिन पहले बनभूलपुरा थानाक्षेत्र में हुई कैटरिंग कारोबारी सोनू गुप्ता की हत्या से पुलिस ने पर्दा उठा दिया है। हत्या सोनू गुप्ता के ही कारोबारी दोस्त साेनू सैनी ने की थी। आरोपित सैनी का मृतक की पत्नी से अफेयर चल रहा था। सोनू को जब यह बात पता चली तो उसने आपत्ति जताई थी, जो आरोपित से बर्दाश्त नहीं हुआ और उसने शनिवार रात दानिश के बगीचे में सोनू को बुलाकर गमछे से गला घोंटकर मार डाला।

मंगलवार को पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि उजाला नगर निवासी 35 वर्षीय सोनू गुप्ता पुत्र तेजपाल अपने तीन बच्चों व बीबी रजनी के साथ रह रहा था। रविवार 13 अगस्त को बरेली रोड किनारे दानिश के बगीचे से सुबह सात बजे उसका शव मिला था। पुलिस ने शक के आधार पर सोनू गुप्ता के करीबी दोस्त सोनू सैनी निवासी सती कालोनी से पूछताछ शुरू कर दी। पहले तो आरोपित मामले को घुमाता रहा, लेकिन पुलिस की सख्ती के बाद आरोपित ने कत्ल की बात स्वीकार कर ली। पुलिस का कहना है कि दोस्त होने के कारण आरोपित का मृतक के घर आना-जाना था। इसी बीच मृतक की पत्नी और आरोपित में मित्रता हो गई और दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे। मृतक के घरवालों ने इस पर ऐतराज जताया और आराेपित को घर आने से टोका भी, जिसे लेकर वह खुन्नस रखने लगा था। इसी बीच मृतक की पत्नी मायके चली गई।

यह भी पढ़ें : Crime news : हत्याओं से धहला ऊधमसिंह नगर, अब रुद्रपुर में दो सगे भाइयों को बुरी तरह गोलियों से भून डाला

यह भी पढ़ें : Murder in Kashipur : पिता को जगाने पहुंचा बेटा तो हर तरफ खून ही खून देख निकल गई चीख

शनिवार की रात 10 बजे के बाद आरोपित साेनू सैनी दोस्त सोनू गुप्ता को बुला ले गया। दोनों ने दानिश के बगीचे में बैठकर शराब पी। इसी दौरान सोनू गुप्ता ने सैनी को उसकी वीबी से दूर रहने की नसीहत दी तो नशे में सैनी आपा खो बैठा और अपने गमछे से सोनू का गला घोंट दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद आरोपित ने अपने दोनों रूम पार्टनर को मौके पर मदद के लिए बुलाया। दोनों वहां पहुंचे, मगर लाश देखकर भाग निकले।

सोनू के यहां कर्मचारी था सैनी

जिस सोनू की सोनू सैनी ने हत्या की है, हत्यारा मृतक के यहां कभी कर्मचारी के रूप में काम करता था। मृतक कैटरिंग का काम करता था और हत्यारा सोनू उसके यहां कैटरिंग में कर्मचारी के रूप में काम करता था। यह दोनों अच्छे दोस्त बन चुके थे। इसी के चलते अधिकांशतः हत्यारे का मृतक के यहां काफी आना जाना था। इसी दौरान हत्यारे की मृतक की पत्नी से आंखें लड़ गईं और प्यार परवान चढ़ने लगा।

पति के कत्ल में पत्नी की भूमिका अस्पष्ट

पति सोनू गुप्ता के कत्ल में प्यार का ट्रैंगिल भले ही कारण बताया जा रहा हो, लेकिन पुलिस पूछताछ में प्रथमदृष्टया पत्नी निर्दोष पाई गई है। पति की हत्या से पहले वह कथित प्रेमी से किसी भी तरह से संपर्क में नहीं थी। यहां तक कि बीते पांच दिनों से दोनों के बीच फोन पर भी कोई वार्ता नहीं हुई थी। घटना के वक्त उसकी पत्नी मायके में थी।

युवक की हत्या के मामले में आरोपित युवक को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है। साथ में मौजूद दो अन्य लोगों की हत्या में कोई भूमिका नहीं मिली। आरोपी सोनू सैनी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

-डा. जगदीश चंद्र, एसपी सिटी, हल्द्वानी

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles