spot_img

अफसर ने गुस्से में काट दी गांव की बिजली तो ग्रामीणों संग पावरहाउस में धरने पर बैठे कैबिनेट मंत्री

हल्द्वानी। ऊर्जा निगम के अफसरों का कारनामा भी गजब का है। कर्मचारियों के काम सही से न करने पर ग्रामीणों ने उन्हें टोका तो एक अफसर ने गुस्से में आकर ग्रामीणों को सबक सिखाने के लिए गांव की बिजली ही गुल कर दी। इससे मामला और बिगड़ गया तो कैबिनेट मंत्री खुद ग्रामीणों संग पावरहाउस पहंचकर धरना देने लग गए।

मामला टीपी नगर पावरहाउस का है। यहां मानपुर पश्चिम गांव में शुक्रवार रात बिजली का पोल सड़क किनारे लगाने पर बवाल हो गया। ग्रामीणों का आरोप है कि ऊर्जा निगम के कर्मचारियों ने पांच घंटे की बिजली कटौती की। पार्षद राजेन्द्र सिंह नेगी ने बताया कि इलाके में एक बिजली का पोल लंबे समय से सड़क किनारे गिरा था। उसे बदलने की मांग लगातार की गई। शुक्रवार को ऊर्जा निगम के कर्मचारी पहुंचे तो पोल को सड़क किनारे लगा दिया। इसका इलाके के लोगों ने विरोध किया तो ऊर्जा निगम के एक अधिकारी ने बिजली ही काट दी। पांच घंटे तक बिजली नहीं आने पर ग्रामीण भड़क गए और पावरहाउस पहुंचकर प्रदर्शन करने लग गए।

वहीं इसकी सूचना कालाढूंगी विधायक एवं कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत तक पहुची तो वह भी मौके पर पहुंच गए और ग्रामीणों के समर्थन में वहीं धरने पर बैठ गए। इसके बाद ऊर्जा निगम के कर्मचारी व अधिकारी हरकत में आए। मंत्री ने ऊर्जा निगम के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए, जिसके बाद शाम छह बजे काटी गई बिजली रात 11 बजे सुचारू हुई। इसके बाद मंत्री और ग्रामीण घर को लौटे।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!