spot_img

भारत की ऐतिहासिक जीत के बाद शुरू हुआ ‘बवाल’, लोगों ने इस फैसले को बताया गलत

न्यूज जंक्शन 24, नई दिल्ली। भारत ने मुंबई में खेले गए टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड को 372 रनों से हराकर इतिहास रच दिया है। टेस्ट क्रिकेट में भारत की रनों के हिसाब से ये सबसे बड़ी टेस्ट जीत है। भारत ने इस मैच में जीत दर्ज करने के साथ ही सीरीज पर भी कब्जा किया, लेकिन इस सबसे इतर मुंबई में खेला गया ये मुकाबला न्यूजीलैंड के स्पिनर एजाज पटेल (Ajaz Patel) के नाम पर जाना जाएगा।

मुंबई में ही पैदा हुए एजाज पटेल (Ajaz Patel) ने भारत के खिलाफ पहली पारी में सभी दस विकेट झटके (मैच में कुल 14 विकेट)। ऐसा करने वाले वो टेस्ट इतिहास में सिर्फ तीसरे बॉलर हैं। लेकिन इतने बड़े इतिहास के बावजूद एजाज पटेल (Ajaz Patel) को प्लेयर ऑफ द मैच नहीं चुना गया और मैच में शानदार बैटिंग करने वाले मयंक अग्रवाल को प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब मिला।

अब इसी मसले पर बहस शुरू हो गई है, वो इसलिए क्योंकि एजाज पटेल (Ajaz Patel) ने जो कारनामा किया है वो इतिहास में कम ही देखने को मिलता है। किसी एक पारी में टीम के सभी दस विकेट निकाल लेना कितना बड़ा रिकॉर्ड है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 1877 से शुरू हुए टेस्ट क्रिकेट में ऐसा सिर्फ तीन बार ही हुआ है।

इसके बावजूद मयंक अग्रवाल को पहली पारी में 150 रन, दूसरी पारी में 62 रन बनाने के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुन लिया गया। इस फैसले पर फैंस आगबबूला हैं। कई लोगों ने सोशल मीडिया पर इस मसले को उठाया है और साथ ही कई पूर्व क्रिकेटर्स की ओर से भी इस तरह के फैसले पर सवाल खड़े किए गए हैं।

सोशल मीडिया पर कई लोगों ने कहा कि एजाज पटेल (Ajaz Patel) को ही प्लेयर ऑफ द मैच मिलना चाहिए था। एक यूज़र ने लिखा कि भले ही न्यूजीलैंड की टीम हार गई हो, लेकिन उसने पारी में दस विकेट लिए हैं ये अवॉर्ड उसे ही दीजिए।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles