रंग लाया धस्माना का संघर्ष, रामनगर के वाहन स्वामियों को नहीं लगानी पड़ेगी हल्द्वानी तक की दौड़। मिलेगा यह लाभ

न्यूज जंक्शन 24, रामनगर ।

जीतने वाले कभी हार नहीं मानते और हार मानने वाले कभी जीत नहीं सकते। यह कहावत रामनगर के गिरीश धस्माना पर सटीक बैठती है। जिनका एक लंबा संघर्ष रामनगर के वाहन स्वामियों को सुविधा प्रदान करेगा। हल्द्वानी आरटीओ में पंजीकृत रामनगर के वाहनों का टैक्स, परमिट, एनओसी व फिटनेस अब रामनगर में ही हो सकेगी। उन्हें अब अतिरिक्त पैसा व समय खर्च करके 60 किलोमीटर दूर हल्द्वानी नहीं जाना पड़ेगा। जिला उधमसिंहनगर के कोर्ट का एक केस उनके इस संघर्ष को सुखद नतीजे में बदलने के लिए नजीर बना। रामनगर के वाहन संस्थाओं ने धस्माना का आभार जताया है।
पहले रामनगर के वाहन मालिकों को पंजीकरण के लिए हल्द्वानी आरटीओ में चक्कर लगाने पड़ते थे। चार साल 2016 में रामनगर में एआरटीओ लोगों की मांग पर खोला गया। 2016 से पहले के वाहन स्वामियों को टैक्स, परमिट, फिटनेस से संबंधित कार्य हल्द्वानी आरटीओ में जाना पड़ता था। जिसमें उनका अतिरिक्त समय व पैसा अधिक खर्च होता था। वाहन स्वामियों की परेशानी को समझते हुए कॉर्बेट जिप्सी वैलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष गिरीश धस्माना आगे आए। उन्होंने हल्द्वानी में पंजीकृत वाहनों को रामनगर कार्यालय में स्थानांतरित करने के लिए प्रयास शुरू किए। धस्माना ने इसके लिए कोर्ट द्वारा रूद्रपुर से काशीपुर के वाहनों को स्थानांतरित करने के दिए गए आदेश को आधार बनाया गया। कार्रवाई नहीं होने पर धस्माना ने हाईकोर्ट जाने की चेतावनी भी दी थी। धस्माना ने न्यूज जंक्षन 24 को बताया कि उन्हें इस लड़ाई में रामनगर के यातायात संस्थाओं के सभी लोगों का सहयोग मिला। रामनगर के एआरटीओ विमल पांडे ने बताया कि हल्द्वानी में पंजीकृत वाहनों से संबंधित कार्य अब रामनगर एआरटीओ में हो सकेंगे। बशर्ते वाहन मालिकों को एक आवेदन भरकर जमा करना होगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*