…तो रद हो सकती हैं उत्तराखंड बोर्ड की भी परीक्षाएं ! पढ़िये राज्य के शिक्षामंत्री अरविंद पांडेय का बयान

 

देहरादून : देश और प्रदेश में बढ़ते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए सीबीएसई की 10वीं की परीक्षाएं रद हो चुकी हैं तो 12वीं की परीक्षाएं स्थगित की गई हैं। ऐसे में अब उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षाओं के होने या न होने को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। प्रदेश के शिक्षा मंत्री ने कहा है कि सरकार फिलहाल कोरोना की चाल को देखते हुए वेट एंड वॉच की स्थिति में है, जल्दी ही सभी हालातो पर मंथन कर फैसला लिया जाएगा।
कोरोना संक्रमण को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार, पंजाब, दिल्ली समेत कई राज्यों में स्थानीय बोर्ड की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। ऐसे में अभी उत्तराखंड बोर्ड की तरफ से कोई फैसला नहीं लिया गया है। उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षाएं भी 4 मई से प्रस्तावित है। ऐसे में उत्तराखंड बोर्ड से जुड़े छात्रों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है। वह समझ नहीं पा रहे हैं की परीक्षा रद्द होंगी या कराई जाएंगी। उत्तराखंड बोर्ड की हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं चार मई से 22 मई तक होनी हैं। इसमें हाई स्कूल के करीब 1,48,355 छात्र और इंटरमीडिएट के 1,22,184 छात्र छात्राएं परीक्षा देंगे। ऐसे में बड़ी संख्या में छात्र चिंतित नजर आ रहे हैं।
प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा है कि पिछले सत्र में तो कोरोनाकाल के बीच परीक्षाएं कराई गई थीं। लेकिन इस बार की परिस्थति को पूरी बारीकी से सरकार परख रही है। जरूरत हुई तो परीक्षा कार्यक्रम में फेरबदल या फिर सीधे इनको स्थगित भी किया जा सकता है। इस मामले में जल्द फैसला लिया जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*