कांग्रेश के किशोर उपाध्याय बोले, केंद्र से लेकर प्रदेश तक कांग्रेस का एक जैसा ही हाल। हरीश रावत, इंदिरा और प्रीतम को दे डाली बड़ी नसीहत

471
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, रामनगर: कांग्रेस में केंद्रीय स्तर पर ही नहीं बल्कि राज्य स्तर पर भी बहुत कुछ बदलाव की उम्मीद जताई जा रही है। रामनगर पहुंचे कांगेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने ऐसा संकेत दे भी दिया है। उन्होंने प्रदेश कांग्रेस के दिग्गजों को एक बार फिर नसीहत दे डाली कि अलग-अलग राह पर चलने से कांग्रेस को नुकसान ही हो रहा है। नुकसान को खत्म करना है तो वरिष्ठ नेताओ को एक साथ आना होगा। कांग्रेस की साख को जिंदा रखने के लिए पूर्व सीएम हरीश रावत, प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्दयेश को एक साथ बैठना होगा।
कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय रामनगर में कांग्रेस के विशेष आमंत्रित सदस्य पुष्कर दुर्गापाल के यहां पत्रकारों से बात कर रहे थे। उपाध्याय ने पार्टी में गुटबाजी के मामले पर कहा कि दिल्ली से लेकर उत्तराखंड तक कांग्रेस संकटकाल की स्थिति में है। आप पार्टी में शामिल होने के बारे में पूछा तो बोले, यह तो भविष्य ही तय करेगा कि आगे क्या होगा। उन्होंने बाद में यह कह दिया कि आरोप लगते रहते हैं। उत्तराखंड में आम पार्टी के विधानसभा चुनाव लडऩे के सवाल पर गोलमोल जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इससे कांगे्रस के वोट बैंक पर कोई असर नहीं पड़ेगा।