उत्तराखंड : पैसे के लालच में पिता ने 13 वर्षीय बेटी की कर दी शादी, स्कूल न पहुंचने पर हुआ यह चौकाने वाला खुलासा

 

देहरादून : चमोली जिले में एक पिता ने अपनी 13 वर्षीय बेटी की शादी चंद पैसों के लालच के लिए दोगुना उम्र के व्यक्ति से कर दी। नाबालिग बेटी कक्षा आठ की छात्रा है। जब वह स्कूल नहीं पहुंची, तब शिक्षकों ने उसकी खोजबीन शुरू की। पता चला कि घर वालों ने उसकी शादी कर दी। शिक्षक ने इसका खुलासा किया तो पुलिस और प्रशासन में हड़कंप मच गया। प्रशासनिक टीम जब घर पहुंची तो कहानी सुनकर हैरान रह गई। तत्काल पिता और शादी करने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है।
चमोली जिले के पोखरी तहसील के अंतर्गत एक गांव में कक्षा 8 की एक छात्रा की शादी का मामला सामने आया। दरअसल कोरोना काल के चलते अभी तक स्कूल बंद चल रहे थे। अब जब स्कूल खुले तो कक्षा 8 की एक छात्रा स्कूल ही नहीं पहुंची। बताया जा रहा है स्कूल के शिक्षक उपेंद्र सती ने उक्त छात्रा को पढ़ाने का जिम्मा ले लिया रखा था, इस नाते जब खोजबीन शुरू की पता चला कि उसके पिता ने कुछ रुपयों के लालच में उसकी शादी देहरादून निवासी एक 25 साल के युवक से कर दी है। लेकिन वह इस वक्त गांव में ही है। शिक्षक उपेंद्र सती ने किसी तरह छात्रा से बात कर उसे स्कूल आने के लिए प्रेरित किया। छात्रा जब स्कूल आई तो वह डरी-सहमी थी। शिक्षक के काफी समझाने पर जब उसने अपनी पीड़ा बयां की स्कूल स्टाफ हैरान रह गया। छात्रा ने बताया कि शादी के कुछ दिन बाद ही तथाकथित पति ने उसको बुरी तरह पीटा और घर से निकाल दिया।
शिक्षक उपेंद्र सती ने पूरा मामला सुन प्रशासन और राजस्व पुलिस को इसकी जानकारी दी। अधिकारियों के संज्ञान में आते ही हड़कंप मच गया। प्रशासनिक टीम ने छात्रा के घर जाकर उससे बातचीत की तब पूरे मामले की पुष्टि हो गई।
राजस्व उपनिरीक्षक शशि प्रसाद डिमरी के अनुसार लड़की के पिता और देहरादून निवासी शादी करने वाली युवक के विरुद्ध पॉक्सो, बाल विवाह अधिनियम, बाल व्यापार अधिनियम समेत कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इधर, मामला महिला आयोग और बाल कल्याण समिति में भी पहुंच गया है। महिला आयोग ने नाबालिग के विवाह मामले की विस्तृत रिपोर्ट प्रशासन से मांगी है।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*