20.5 C
New York
Saturday, October 23, 2021

Buy now

Uttrakhand politics : प्रदेश सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल पर गुस्साए कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, दे दिया यह दो-टूक जवाब। पढ़िये दो मंत्रियों का टकराव

 

देहरादून : सत्तारूढ़ भाजपा में अभी तीरथ सिंह रावत और पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के बीच टकराव की अटकलें खत्म भी नहीं हुई थीं कि अब कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और सरकार के प्रवक्ता मंत्री सुबोध उनियाल आमने-सामने आ गए हैं। इस टकराव की वजह हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बना है। एयरपोर्ट महाराज का ड्रीम प्रोजेक्ट है तो उनियाल ने कह दिया कि सरकार को इसकी जानकारी नहीं है। उनियाल के इसी बात पर महाराज नाराज हो गए और उन्होंने दो-टूक जवाब दिया कि मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप पुरी से वार्ता के बाद ही हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के लिए कसरत शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि विभागीय क्लीयरेंस के बाद ही एयरपोर्ट से संबंधित प्रस्ताव कैबिनेट में आएगा। इंटरनेट मीडिया पर अपनी इस पोस्ट के माध्यम से महाराज ने सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल पर तीखा निशाना साधा। कैबिनेट मंत्री उनियाल ने पूर्व में कहा था कि हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का कोई प्रस्ताव सरकार के विचाराधीन नहीं है।

कैबिनेट मंत्री महाराज ने इंटरनेट मीडिया में अपनी पोस्ट में लिखा कि उनके द्वारा राज्य में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को लेकर हाल में ही एक प्रशासनिक कमेटी का गठन कर भूमि चयन की पहल की गई। इस संबंध में 18 जून को दोबारा बैठक कर भूमि चयन की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया। इस बीच इंटरनेट मीडिया में यह प्रचार किया गया कि राज्य सरकार को इसकी जानकारी नहीं है। महाराज ने लिखा कि इस विषय में मुख्यमंत्री व केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री से वार्ता और उनके संज्ञान में लाने के बाद ही एयरपोर्ट के संबंध में कार्यवाही शुरू हुई है।

महाराज ने आगे लिखा, मेरे लिए राज्य का हित सर्वोपरि है। हमारा सपना है कि अमेरिका, कनाडा, आस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड से यात्री जहाज से सीधे यहां उतरें और योग ध्यान के साथ-साथ चारधाम सहित अन्य स्थलों के दर्शन भी कर सकें। उन्होंने लिखा कि स्थलीय निरीक्षण के अलावा विभागीय क्लीयरेंस के बाद अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का विषय कैबिनेट में आएगा। इसके पश्चात आगे की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles