12.9 C
New York
Sunday, October 24, 2021

Buy now

दोस्त के बेटे से कराना चाहता था अपनी प्रेमिका की शादी, लड़की ने इन्कार किया तो घाेंट दिया गला

लखनऊ। यूपी के बरेली में मिस्ड कॉल से शुरू हुई लव स्टोरी का दर्दनाक अंत हुआ है। दो साल तक चली इस लव स्टोरी में प्रेमी ने धोखा देकर दोस्तों के साथ मिलकर युवती की हत्या कर दी और लाश एक गड्ढे में दफना दी।

मामला बरेली की बारादरी थाना क्षेत्र की दुर्गा नगर की है। यहां रहने वाले चंद्रपाल की बेटी प्रिया उत्तराखंंड के रुद्रपुर में अपनी बहन के पास रहकर निजी कंपनी में नौकरी करती थी। उसी दौरान उसकी बदायूं निवासी राजवीर से एक मिस्ड कॉल के जरिए दोस्ती हो गई। आपसी बातचीत और मुलाकात के बाद दोस्ती प्यार में बदल गई। फिर दोनों ने शादी करने का प्लान बनाया। मगर कहानी यहीं से बदलती चली गई। क्याेंकि युवती के प्रेमी राजवीर के मन में कुछ और ही चल रहा था।

तय प्लान के साथ राजवीर ने जुलाई में प्रिया को उस वक्त अपने साथ बदायूं ले आया, जब वह नौकरी के लिए बरेली से रुद्रपुर जा रही थी। देर रात तक रुद्रपुर न पहुंचने पर प्रिया की बहन ने घर फोन कर उसके न आने की वजह पूछी तो परिवार के लोग सन्न रह गए। क्योकि प्रिया रुद्रपुर के लिए सुबह ही घर से निकल गई थी। काफी खोजबीन के बाद जब युवती के परिजनों को उसकी कोई जानकारी न मिली तो 16 जुलाई को बारादरी थाने पहुंचे और प्रिया के पिता चंद्रपाल ने बेटी की गुमशुदगी दर्ज कराई। गुमशुदगी दर्ज होने के बाद पुलिस ने सर्विलांस के जरिए युवती की तलाश शुरू की।

करीब ढाई महीने तलाश के बाद तीन दिन पहले मुखबिर के जरिये पुलिस को युवती के प्रेमी राजवीर के बारे में जानकारी मिली। पता लगा कि बदायूं निवासी राजवीर सुभाषनगर में मिठाई की दुकान पर नौकरी करता है। पुलिस दुकान पर पहुंची तो राजवीर वहां नहीं मिला। इस पर पुलिस दुकान मालिक से राजवीर का बदायूं का एड्रेस लेकर वहां पहुंच गई और देर रात राजवीर को दबोच लिया। पुलिस ने युवती के बारे में पूछताछ शुरू की तो उसने बताया कि उसने अपने दो दोस्त सत्येंद्र, गोवर्धन और उनके परिजनों के साथ मिलकर प्रिया की हत्या कर दी है अौर शव अरिल नदी के किनारे गड्ढे में छिपा दिया है।

राजवीर ने यह भी बताया कि वह अपनी प्रेमिका की शादी अपने दोस्त सत्येंद्र के बेटे अजीत से कराना चाहता था। जब उसकी प्रेमिका ने इस बात का विरोध किया तो सत्येंद्र, गोवर्धन और राजवीर ने मिलकर उसका गला दबा दिया और हत्या कर उसका शव गड्ढे में दफना दिया। पुलिस ने राजवीर की निशानदेही पर सत्येंद्र और गोवर्धन को गिरफ्तार कर लिया और शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। हालांकि शव पूरी तरह सड़-गल चुका था।

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों में सत्येंद्र और उसका बेटा अजीत अपनी पत्नी की हत्या के मामले में पहले भी जेल जा चुके हैं। अब सत्येंद्र अपने बेटे अजीत की शादी प्रिया से कराना चाहता था, लेकिन उसके इन्कार करने पर राजवीर, सत्येंद्र और गोवर्धन ने प्रिया की हत्या कर दी।

ऐसे ही लेटेस्ट और रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles