spot_img

ये क्या, हरीश रावत की अब पार्टी महासचिव पद से भी कर दी गई छुट्टी, ये रही वजह

देहरादून। पंजाब प्रभारी पद से हटाए जाने के बाद कांग्रेस ने अब हरीश रावत को पार्टी के महासचिव पद से भी हटा दिया है।

उत्तराखंड में अगले साल शुरू में ही विधानसभा चुनाव होने हैं। एेसे में हरीश रावत ने कांग्रेस अलाकमान से उन्हें पंजाब प्रभारी के पद से हटाने की मांग की थी। हरीश रावत ने पार्टी से कहा था कि पंजाब और उत्तराखंड में चुनाव आने वाले हैं। ऐसे में दोनों जगहों पर उन्हें पूरा समय देना होगा। ऐसे में उनके लिए परिस्थितियां कठिन होती जा रही हैं।

हरदा के इस अनुरोध पर कांग्रेस ने तो उनसे पंजाब प्रभारी की जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया, मगर अब खबर ये भी है कि पार्टी ने हरीश रावत को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव पद से भी हटा दिया है। हरीश रावत अब उत्तराखंड के चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष रह गए हैं।

पंजाब प्रभारी पद से हटाने का किया था अनुरोध

शुक्रवार को कांग्रेस केंद्रीय नेतृत्व ने उनको पंजाब कांग्रेस प्रदेश प्रभारी के पद से मुक्त करते हुए अब पूरी तरह उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव में जुटने के लिए फ्री कर दिया है। इधर पंजाब में इसी नाम के दूसरे नेता हरीश चौधरी को प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है।

ध्यान रहे उत्तराखंड चुनाव को लेकर हरीश रावत यहां पूरी तरह सक्रिय होना चाहते हैं, लेकिन पंजाब कांग्रेस में तेजी के साथ हो रही उठापटक के चलते उनको बार-बार वहां जाना पड़ रहा था। ऐसे में उन्होंने हाईकमान के सामने चुनावी व्यस्तता को ध्यान में रखते हुए पंजाब प्रदेश प्रभारी के पद से मुक्त करने का अनुरोध किया था ताकि उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के दौरान वे सक्रिय रहकर अपनी सक्रियता राज्य को दे सकें। काफी समय बाद हाईकमान ने उनके इस अनुरोध को स्वीकार कर लिया है। हरीश रावत उत्तराखंड कांग्रेस की चुुुनाव अभियान समति के चेयरमैन भी बनाए गए हैैं।

ऐसे ही लेटेस्ट और रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles