Uttrakhand breaking : उत्तराखंड में नए मुख्यमंत्री के शपथ लेने से पहले भाजपा में फिर फूटा गुस्से का बम, महाराज और हरक दिल्ली रवाना। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने यह संभाला मोर्चा

देहरादून। उत्तराखंड में तीरथ सिंह रावत के इस्तीफे के बाद खटीमा से विधायक पुष्कर सिंह धामी को नया मुख्यमंत्री चुन लिया गया है। आज शाम पांच बजे वह मुख्यमंत्री पद की शपथ भी ले लेंगे। मगर इस बीच खबर है कि धामी की ताजपोशी होने पर मुख्यमंत्री बनने की हसरत पाले कई नेता नाराज हो गए हैं। ऐसे में अब भाजपा असंतुष्ट नेताओं को मनाने की जुगत में जुट गई है।

यह भी पढ़ें : खटीमा विधायक पुष्कर सिंह धामी बने उत्तराखंड के नए CM, विधायक दल की बैठक में फैसला

यह भी पढ़ें : युवा हाथों में प्रदेश का राज, जानिए उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के बारे में सबकुछ

बताया जा रहा है कि सतपाल महाराज इन नेताओं में सबसे ज्यादा नाराज हैं और ऐसे में नाराज नेताओं की मान मनौव्वल में बीजेपी आलाकमान जुटे हुए हैं। सतपाल महाराज गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करने के लिए दिल्ली रवाना हो चुके हैं। वहीं, आगामी 2022 विस चुनाव से पहले पार्टी के अंदर कोई राजनीतिक भूचाल ना आए, इसके लिए अभी से कोशिशें तेज हो गई हैं। खबर ये भी है कि अमित शाह ने ऐसे कई नाराज नेताओं से बातचीत की है। साथ ही पार्टी नेता भी इन नाराज नेताओं को मनाने में जुट गए हैं। इसके बावजूद सतपाल महाराज और हरक सिंह रावत गृहमंत्री अमित शाह से मिलने दिल्ली रवाना हो गए हैं।

कहा जा रहा है कि पार्टी में कई दिग्गज और सीनियर नेता हैं, मगर उन्हें दरकिनार कर कम अनुभवी पुष्कर सिंह धामी को मुख्यमंत्री बना दिया गया, यह बात सीनियरों को गले नहीं उतर रही है। पुष्कर सिंह धामी पूर्व सीएम एवं वर्तमान में महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी गुट के हैं, इस कारण बीसी खंडूड़ी से जुड़ा खेमा भी नाराज दिखाई दे रहा है। यही नहीं डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक खेमे को साथ लेकर चलना भी पुष्कर सिंह धामी के लिए बड़ी चुनौती होगा।

 

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*