मायके से ससुराल करवाचौथ मनाने गई थी महिला, वापस लौटी लाश, पीलीभीत में है घर, बिशारतगंज में मिला शव

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

बिशारतगंज के अखा तिराहे के समीप झाड़ियों में शुक्रवार को मिले शव की शिनाख्त थाना सुभाष नगर के करगैना कस्बे की कंचन मिश्रा के रूप में हुई।मृतका के भाई ने खुलासा किया कि एक दिन पूर्व ही कंचन मायके से पीलीभीत स्थित अपनी ससुराल गई थी जहां उसी रात उसके पति ने अपने परिजनों के साथ मिलकर कंचन की निर्मम हत्या कर शव बिशारतगंज इलाके में फेंक दिया था। घटना के संदर्भ में मायके पक्ष ने अभी तक कोई तहरीर नहीं दी है।

शुक्रवार की सुबह बरेली-बदायूं मार्ग के अखा तिराहे के समीप झाड़ियों में चादर में लिपटा एक महिला का शव बरामद हुआ था। शव की हालत देखकर स्पष्ट था की महिला की चाकुओं से गोदकर बड़ी बेरहमी से हत्या की गई है। थाना पुलिस द्वारा भरसक प्रयासों के बाद भी मृतका की शिनाख्त नहीं हो सकी थी। शनिवार की सुबह समाचार पत्रों में खबर देखने के बाद थाना सुभाष नगर के करगैना निवासी डॉ विजय कुमार मिश्रा अपने परिवार के साथ पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे और मृतका की शिनाख्त अपनी पुत्री कंचन मिश्रा के रूप में कर दी। मृतका के भाई भरत मिश्रा ने बताया कि कंचन अपनी माताजी की तबीयत खराब होने के चलते पिछले 2 माह से मायके में ही रह रही थी। करवा चौथ त्योहार के मद्देनजर कंचन ने ससुराल जाने की बात कही तो भाई भरत गुरुवार की अपराह्न करीब 4 बजे कंचन को बरेली के सैटेलाइट बस अड्डा से पीलीभीत जाने वाली बस पर बिठा आया। भरत ने बताया कि 2 वर्ष पूर्व कंचन की शादी पीलीभीत के थाना सुनगढ़ी के अंतर्गत मोहल्ला गांधी स्टेडियम निवासी सुनील शास्त्री के साथ हुई थी। भरत ने यह भी बताया कि गुरुवार को ससुराल पहुंचने के बाद कंचन ने रात 9:30 बजे फोन से अपनी कुशल क्षेम बताई थी और उसके थोड़ी ही देर बाद उसका मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। भरत ने ये भी दावा किया कि कंचन का शव मिलने के बाद उसने फोन से पीलीभीत के सुनगढ़ी थाना प्रभारी को घटना से अवगत करा दिया। उसके पति सुनील शास्त्री को हिरासत में ले लिया है। सीओ आंवला चमन सिंह छाबड़ा ने बताया कि मृतका कंचन मिश्रा के मायके वालों ने अभी तक कोई तहरीर नहीं दी है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*