रात को प्रेमी से मिलने गई महिला, पीछे से बेटियों के अपहरण का मचा हल्ला, पुलिस पहुंची तो हुआ ये

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

मीरगंज क्षेत्र के नंदगांव में एक महिला ने मंगलवार रात अपनी दो मासूम बेटियों के घर से अपहरण होने की सूचना पुलिस को दे दी। इससे विभाग में हड़कंप मच गया। आनन-फानन पुलिस मौके पर पहुंची। जांच-पड़ताल में पता चला कि महिला का गांव के ही युवक से प्रेम-प्रसंग चल रहा है। वह उससे मिलने गई। वापस लौटी तो घर में बेटियों के न मिलने पर उसने अपहरण की सूचना दे दी। पुलिस ने बेटियों को बरामद कर महिला समेत उसके प्रेमी व उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया।
नंदगांव की एक महिला का पति बाहर काम करता है। घर में महिला बच्चों के साथ रहती है। महिला ने मंगलवार रात पुलिस को फोन कर बताया कि उसकी एक 5 वर्षीय और एक 4 वर्षीय बेटी का कुछ लोग घर से अपहरण कर ले गए हैं। कंट्रोल से मैसेज मिलने के बाद रात 3 बजकर 30 मिनट पर एसओ विजय कुमार फोर्स लेकर गांव पहुंच गए। पुलिस ने महिला से पूछताछ कर उस कमरे का निरीक्षण किया, जिसमें लड़कियां सो रही थीं। संदेह होने पर पुलिस ने मोहल्ले के लोगों से पूछताछ की। ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने कुछ लोगों को पंचायत घर की दीवार कूदकर स्कूल परिसर में जाते देखा था।

स्कूल परिसर में पुलिस को टूटी चूड़ियां पड़ी मिलीं। पुलिस ने महिला का मोबाइल चेक किया। एक नम्बर पर महिला की कई बार बातें हुई थीं। पुलिस महिला को थाने ले गई। पुलिस के सख्ती करने पर महिला ने युवक से संबंध होने की बात बता दी। जिसके बाद पुलिस ने प्रेमी व उसके एक साथी को भी हिरासत में ले लिया। जांच के दौरान दोनों लड़कियां गांव में स्कूल के पास रहने वाले ग्रामीण के घर बैठी मिलीं। पुलिस लड़कियों को थाने ले गई। ग्रामीण ने बताया कि दोनों लड़कियां मां को ढूढ़ते हुए अंधेरे में अकेले भटक रही थीं।

उसने सुरक्षा की दुष्टि से उन्हें अपने घर में बैठा लिया था। अपहरण की झूठी सूचना देने पर पुलिस ने महिला समेत तीन लोगों पर शांति भंग के आरोप में कार्रवाई की। एसओ विजय कुमार ने बताया कि मंगलवार रात गांव की महिला घर में दोनों पुत्रियों को छोड़कर कहीं चली गई। पुत्रियां जागी तो मां घर में नहीं थी। दोनों मां को ढूंढने घर से निकल गईं। उनको रात में अकेले घूमता देख एक ग्रामीण ने अपने घर में बैठा लिया था। अपहरण की सूचना जांच में झूठी निकली।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*