बरेली में यू ट्यूब चैनल के पत्रकार संजीव अग्रवाल गिरफ्तार, रेलवे कांट्रेक्टर से मांगी थी रंगदारी

एनजे, बरेली: उत्तर प्रदेश के जिला बरेली में सुभाषनगर पुलिस ने यूट्यूब चैनल एलटीटी के मालिक संजीव अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया है। उस पर रेलवे कान्ट्रैक्ट लेने वाली कंपनी के मैनेजर से पांच लाख रुपये की रंगदारी मांगने का आरोप था। जिसका मुकदमा सुभाषनगर थाने में दर्ज है। इसके अलावा एक मुकदमा जीआरपी में भी रंगदारी के आरोप में दर्ज है।

      आठ जुलाई को गाजियाबाद के कवीनगर ई ब्लाक निवासी आनन्द शर्मा की ओर से डीआईजी के आदेश पर रंगदारी मांगने का सुभाषनगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। जिसमें बताया गया था वह एसबी कैटरिंग सर्विसेज कंपनी में काम करते हैं जो आईआरसीटीसी रेलवे की कॉन्ट्रेक्ट लेती है। जिसके कारण कंपनी का मैनेजर बनके वह लॉक डाउन के दौरान स्पेशल श्रमिक ट्रेनों में आने वाले प्रवासियों के खाने पीने की व्यवस्था कर रहे थे। इसी दौरान यूट्यूब के एलटीटी चैनल के मालिक  संजीव अग्रवाल व उनके अन्य साथी फोन पर धमकी देते हुये पांच लाख रुपये की रंगदारी मांग रहे थे। इसके साथ ही अधिकारियों में अपनी पैठ दिखाकर फोटो और वीडियो भेजकर भी धमकाते थे। जिसके बाद पीड़ित ने इस मामले की शिकायत डीआईजी राजेश पांडेय से की थी। जिसके बाद सुभाषनगर पुलिस ने संजीव के नामजद व उसके अज्ञात साथियों पर मुकदमा दर्ज किया था। आरोपियों ने जंक्शन पर आकर जबरन दस रुपये के हिसाब से खाने के पैकेट सप्लाई करने को कहा था और ऐसा न करने पर रंगदारी मांगी थी। संजीव अग्रवाल मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही फरार चल रहा था। जिसको सुभाषनगर पुलिस ने दबिश देते हुये घर से गिरफ्तार किया है। गुरुवार शाम उसे जेल भेज दिया गया है।

कोरोना महामारी के नाम से भी डराता था आरोपी

पीड़ित ने लिखित शिकायत में बताया है कि आरोपी उसको कोरोना महामारी के नाम से डराता था। आनन्द शर्मा ने बताया है कि आरोपी हमेश कहता था कि उसके पास बदमाश और कोरोना संक्रमित लोग भी हैं जिनसे वह उसको कभी भी बीमारी फैलवाकर मार सकता है। इसके साथ ही बदमाशों से भी गोली पड़वाने से डराता था।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*