डॉ. इंदिरा के इलाज में हीलाहवाली पर कांग्रेसी नाराज, बोले हरेंद्र बोरा-जब नेता प्रतिपक्ष का यह हाल तो आम जन का क्या होगा

175
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, लालकुआ।

कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उपचार के लिए हल्द्वानी से देहरादून पहुंचीं नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा ह्दयेश को मैक्स अस्पताल में देर रात तक कमरा उपलब्ध ना होने से कांग्रेसियों का पारा चढ़ गया है। नाराज पीसीसी सदस्य एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता हरेंद्र सिंह बोरा ने प्रदेश की बदहाल स्वास्थ्य सुविधाओं के खिलाफ हल्ला बोलते हुए कहा कि जब प्रदेश कि नेता प्रतिपक्ष को इलाज में इतनी हीला हवाली की जा रही है तो प्रदेश में कोरोना से जूझ रहे आम आदमी का क्या हाल होगा। उन्होंनेे कहा कि प्रदेश में दिन पर दिन कोरोना के बढ़ते हुुुये मामले सरकार की नाकामी को दर्शातेे हैं उन्होंने कहा कि प्रदेश में चाक-चौबंद स्वास्थ सेवा का दावा करनेे वाली भाजपा सरकार केेे राज में कोरेाना के उपचार के लिए हल्द्वानी से देहरादून आईं नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा ह्दयेश को कड़वे अनुभव से दोचार होना पड़ा। दोपहर तीन बजे से रात करीब सवा दस बजे मैक्स अस्पताल, सरकारी कोठी और फिर सिनर्जी अस्पताल की दौड़भाग के बाद जाकर उन्हें एडमिट होने को प्राइवेट रूम मिल पाया। जब प्रदेश की एक सीनियर नेता को इलाज के लिए इतनी मशक्कत करनी पड़ी तो आम आदमी के इलाज के लिए सरकार से क्या उम्मीद की जा सकती है। उन्होंने कुमाऊ के सबसे बड़े कोविड सेंटर सुशीला तिवारी अस्पताल में दिन प्रतिदिन कोरोना से हो रही मौतों पर सरकार को घेरते हुुए कहा कि सुशीला तिवारी अस्पताल में स्वास्थ्य के प्रति अनियमितताएं उजागर होने के बावजूद एक बार भी मुख्यमंत्री ने यहां पहुंच कर अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लेना उचित नहीं समझा उन्होंने कहा कि यदि सुशीला तिवारी अस्पताल में शीघ्र ही स्वास्थ सुविधाओंं पर सुधार नहीं किया गया तो वह प्रदेश व्यापी आंदोलन को मजबूर होंगे।