दस महीने तक और रहेगा कोरोना, पढ़िये डब्लूएचओ के चौकाने वाले नए दावे

जिनेवा। कोरोना का संक्रमण फ़िलहाल दूर होने वाला नहीं है। यह चेतावनी बुधवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोविड-19 की गहन समीक्षा के बाद जारी की है। कहा है कि दुनिया भर में हर 10 में से एक व्यक्ति कोविड-19 संक्रमित हो सकता है। डब्ल्यूएचओ के शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि अनुमान के मुताबिक ‘दुनिया की जनसंख्या का बड़ा हिस्सा जोखिम में है।’ विशेषज्ञ लंबे समय से कह रहे हैं कि कोरोना वायरस के मामलों की वास्तविक संख्या आंकड़ों से काफी अधिक है।

जिनेवा स्थित मुख्यालय में महामारी पर काबू पाए जाने के लिए हुई एक बैठक में डब्ल्यूएचओ के हेल्थ इमर्जेंसी प्रोग्राम के कार्यकारी निदेशक माइक रयान ने कहा, अभी आगामी दस महीने और यह संकट खत्म होने का कोई संकेत नहीं है। कई देशों में कोरोना वायरस नियंत्रण के लिए लगाए गए प्रतिबंधों में ढील के बाद सैकंड वेव आ रही है। इससे मरीजों की संख्या बढ़ रही है।
माइक रयान ने कहा कि एक अनुमान के मुताबिक दुनिया की आबादी में से 10 फीसदी लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। 34 सदस्यीय बोर्ड मीटिंग के दौरान रयान ने कहा, कोरोना वायरस संक्रमण का रिस्क शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों अलग-अलग है।
रेयान ने चेतावनी दी कि महामारी लगातार बढ़ती जा रही है। दुनिया अब पहले से ज्यादा संकट में है लेकिन उन्होंने यह भी जोड़ा कि हमारे पास ऐसे उपकरण हैं जो ट्रांसमिशन को काबू करने और लोगों की जान बचाने में सक्षम हैं। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस एडहोम घेब्येयियस ने देशों से एकजुटता और दृढ़ नेतृत्व का आह्वान किया। कहा कि सभी देश इस वायरस से प्रभावित हुए हैं। यह एक असामान्य महामारी है। उल्लेखनीय है जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट के अनुसार वायरस से दस लाख से अधिक लोग मारे गए हैं। अमेरिका के बाद, भारत और ब्राजील में सबसे अधिक संक्रमण का प्रसार देखा गया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*