चंपावत के शिक्षक विद्या ऑनलाइन बांट रहे ज्ञान का सागर

चंपावत। अगर इरादे मजबूत और हौसले पक्के हों तो कोई भी मुश्किल राह का रोड़ा नहीं बन सकती। जहां एक तरफ लॉकडाउन की वजह से पूरे देश में लोग घर में बैठकर टाइमपास कर रहे हैं। ऐसे में चंपावत के सरकारी शिक्षक विद्या सागर यूट्यूब पर चैनल बनाकर अपने स्कूल के विद्यार्थियों को ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने में लगे हूए हैं। कोर्स की पढ़ाई के साथ प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए भी विद्यार्थियों को तैयार कर रहे हैं। इससे लॉकडाउन में उनके समय का भी सद्पयोग हो रहा है। साथ ही बच्चे भी ज्ञान के सागर में गोते लगा रहे हैं।


चंपावत जिले के राजकीय इंटर कॉलेज दयारतोली में अंग्रेजी प्रवक्ता के रूप में तैनात विद्या सागर अपनी कक्षा के विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए तरह-तरह के नए प्रयोग करते रहते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब 22 मार्च को देशभर में लॉकडाउन की घोषणा की तो उन्हें अपने कॉलेज के विद्यार्थियों की पढ़ाई को लेकर चिंता होने लगी, क्योंकि विद्यार्थियों की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी नहीं हो पाएगी तो इंटर के बाद उनको अच्छे कॉलेज में प्रवेश नहीं मिल पाएगा। पहाड़ पर पढ़ाई के संसाधन भी सीमित हैं और उन संसाधनों के बीच पहाड़ जैसी कठिनाइयां अलग हैं तब उनके मन में ऑनलाइन शिक्षा देने का आइडिया आया।

उन्होंने बिना देर किए यूट्यूब पर sagar Education नाम से चैनल बनाया। इसके बाद विद्यार्थियों के नंबरों पर संपर्क किया। अब वह लगातार एजुकेशनल वीडियो चैनल पर अपलोड कर रहे हैं जिसके लिंक विद्यार्थियों के व्हाट्सएप नंबर पर भेजते हैं। विद्यार्थियों के किसी भी समस्या के आने पर फोन के माध्यम से उनका समाधान भी करते हैं। उनकी इस पहल से विद्यार्थी घर में बैठकर लॉकडाउन का भी पालन कर रहे हैं और उनकी पढ़ाई का भी नुकसान नहीं हो रहा है।

विद्या सागर अब अन्य विषयों के शिक्षकों से भी चैनल पर वीडियो अपलोड करने के लिए संपर्क कर रहे हैं। उनके नवाचार के लिए कॉलेज के प्रधानाचार्य दीपक गंगवार ने भी उनकी काफी सराहना की। अन्य शिक्षकों के लिए प्रेरणादायी बताया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*