ईरान में पहलवान को सुना दी गई मौत की सजा, ट्रम्प ने की थी सजा न देने की सिफारिश, जानिए मामला

172
खबर शेयर करें -

ईरान में एक व्यक्ति की कथित रूप से हत्या करने को लेकर एक पहलवान को मौत की नींद सुला दिया गया। उसे बख्श देने के अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आह्वान को भी ठुकरा दिया गया।

ईरान की सरकारी टीवी ने शनिवार को यह खबर दी। उसके अनुसार फार्स प्रांत के मुख्य न्यायाधीश काजिम मौसवी ने कहा कि हसन तुर्कमान के हत्यारे नाविद अफकारी के खिलाफ बदले की सजा रविवार सुबह शिराज की अदेलबाद जेल में तामील की गई। अफकारी के मामले को लेकर सोशल मीडिया पर विशेष अभियान चला जिसमें उसे और उसके भाई को 2018 में ईरान के शिया धर्मतंत्र के खिलाफ भाग लेने पर निशाना बनाने का आरोप लगाया गया है।

प्रशासन ने अफकारी पर अशांति के दौरान शिराज में एक जलापूर्ति कंपनी के कर्मचारी की चाकू मारकर हत्या करने का आरोप लगाया है। इस मामले से मृत्युदंड को तामील करने पर रोक लगाने की मांग ईरान में फिर उठने लगी है। उधर, अमेरिका के विदेश मंत्री माईक पोम्पियो ने इस मृत्युदंड को क्रूरता करार दिया है।

पिछले सप्ताह अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने ट्वीट किया था कि ईरान के नेताओं की मैं बड़ी प्रशंसा करूंगा यदि वे इस युवा व्यक्ति की जान बख्श देते हैं और उसे मौत की सजा नहीं देते हैं।