यूपी के इस जिले में रेलवे ने अपनी जमीन से हटवाया अतिक्रमण, भारी मात्रा में तैनात रही फोर्स

166
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

डीआरएम ऑफिस से चंद कदम दूर न्यू मॉडल रेलवे बाजार में कुछ लोगों ने अवैध रूप से निर्माण कार्य शुरू करा दिया। टीनशेड डालने के साथ ही उसमें पक्का निर्माण भी करवाने लगे थे। रेलवे की काफी जमीन पर दीवार तोड़कर कब्जा किया जा रहा था।

आरपीएफ के नेतृत्व में इंजीनियरिंग विभाग ने अतिक्रमण को हटवाया। दुकानदारों को हिदायत दी गई कि यदि रेल की जमीन पर कब्जा किया गया तो सारा माल जप्त कर लिया जाएगा।
पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने एनसीआर में रेल ट्रैक किनारे झुग्गी झोपड़ी वालों के खिलाफ नाराजगी जताई थी। इसके बाद 4800 जुग्गी झोपड़ियां वहां से हटाई गईं। कोर्ट ने आदेश दिए कि रेल की जमीनों पर लगातार कब्जे हो रहे हैं। मगर रेल प्रशासनिक अफसर इस बात पर ध्यान नहीं दे रहे, जो आगे चलकर बड़ी समस्या उत्पन्न करेंगे हो।आदेश मिलते ही सभी डिवीजन में रेल अतिक्रमण हटाओ अभियान शुरू किया गया। अधिकारियों ने इस अभियान को प्रमुखता से नहीं लिया बल्कि सिर्फ खानापूरी कर के ही उसको कागजों में शिमटाने को लग गए।

जिससे रिकॉर्ड में अभियान दर्ज किया जा सके। इज्जतनगर डिविजन में भी कई जगह अतिक्रमण है।खासतौर पर डीआरएम ऑफिस के सामने ही रेलवे बाजार की जमीन पर भी लोगों ने कब्जे करने शुरू कर दिए। दीवार को तोड़कर अवैध निर्माण बनाया जाने लगा। आगे से पन्नी डालकर अंदर टीनशेड और पक्का निर्माण कराया जा रहा था। आरपीएफ इंस्पेक्टर टीएस यादव ने तुरंत एक्शन लिया। टीम के साथ मौके पर पहुंच कर अतिक्रमण कर रहे लोगों पर बरस पड़े।

कई लोगों की पिटाई भी की गई। इसके साथ ही वहां अतिक्रमण को तोड़ दिया गया। टीनशेड उखाड़कर फेंक दिए। अतिक्रमण करने व्यापारियों को हिदायत दी गई, जो भी अतिक्रमण किया है, उसे तत्काल प्रभाव से हटा लिया जाए। अन्यथा सभी सामान जप्त किया जाएगा।