सरकार ने उपनल के माध्यम से भर्तियों में खोले सभी के लिए द्वार, पर्यटकों के लिए भी शानदार स्कीम। जानिए कैबिनेट के फैसले

153
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून ।

उत्तराखंड सरकार की शुक्रवार को हुई कैबिनेट में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। उपनल के जरिये जहां सभी के लिए भर्तियां खोल दी गईं, वहीं पर्यटन कारोबार बढ़ाने के लिए पर्यटकों को लुभावनी स्कीम लांच की गई।

त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में हुई केबिनेट में 30 प्रस्ताव चर्चा के लिए लाए गए, जिसमें 28 प्रस्तावों को पास किया गया। सबसे महत्त्वपूर्ण प्रस्ताव उपनल के माध्यम से सामान्य श्रेणी के व्यक्तियों को भी नौकरी देने का लिया गया। जिसमें पहली प्राथमिकता पूर्व सैनिको व उनके परिजनों को ही रहेगी। राजकीय महाविद्यालय में गेस्ट फैकल्टी की अवधि 1 साल और बढ़ाई गई है। इससे प्रदेश के करीब 259 शिक्षकों को लाभ मिल सकेगा उत्तराखंड नागरिक सुरक्षा नियमावली में संशोधन को मंजूरी दे दी गई है। कृषि व उद्यान विभाग का एकीकरण कर दिया गया है। सीमांत में मोबाइल सेवा को दुरुस्त करने का फैसला लिया गया है। जिम कार्बेट टाइगर रिजर्व की एडवांस बुकिंग के अभी तक जो 1करोड़ 85 लाख रुपये डंप हैं, उस रकम को पर्यटकों के लिए वापस किया जाएगा।
जूना अखाड़ा महादेवी मंदिर के अंतर्गत आने वाले माया देवी मंदिर और भैरव देवी मंदिर की ऊंचाई बढाये जाने को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है।
उत्तर प्रदेश श्रम नियमावली को उत्तराखंड कैबिनेट ने सुधार के लिए मंजूरी दे दी है। इसके अलावा कोविड में विधानसभा सदस्यों के वेतन भत्ते में कटौती का विधानसभा में विधेयक लाया जाएगा। केदारनाथ में हेलीकॉप्टर सेवा का विस्तार किया जाएगा।
पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटकों को छूट देने के लिए पर्यटक प्रोत्साहन कूपन योजना के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। इस पर्यटक प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत पर्यटकों के लिए 1 हजार रुपये की छूट मिलेगी।