पत्नी मरने के बाद अकेलापन नहीं झेल सके तो व्याह रचाने चले 80 वर्षीय बुजुर्ग, जानिए फिर बेटों ने क्या किया

169
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

80 साल के एक बुजुर्ग की पत्नी की तीन साल पहले मौत हो गई। इसके बाद बुजुर्ग अकेले पड़ गए। बीमार रहने लगे तो बेटों ने उनकी देखभाल करना कम कर दिया जिससे नाराज बुजुर्ग ने दूसरा विवाह करने की ठान ली। रविवार को वह बेटों से विवाह करने जाने की बात कहकर घर से जाने लगे तो बेटों ने उनकी जमकर पिटाई कर दी। बुजुर्ग ने अपने बेटों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

हाफिजगंज क्षेत्र के नउआ नगला गांव के प्रेमपाल के दो बेटे लालाराम व बालकराम हैं जिनमें लालाराम के पांच और बालकराम के चार संतानें हैं। प्रेमपाल का आरोप है कि पत्नी की मौत के बाद बेटों ने उनका ध्यान रखना बंद कर दिया। वह उनके खाने-पीने का भी इंतजाम नहीं करते जिससे परेशान होकर उन्होंने दूसरा विवाह करने की ठान ली। रविवार को वह विवाह करने के लिए बिहार जाने की बात कहकर घर से जाने लगे जिससे गुस्साए दोनों बेटों ने उनकी जमकर पिटाई कर दी। इससे नाराज बुजुर्ग ने बेटों के खिलाफ थाना हाफिजगंज में मुकदमा दर्ज कराया है। बुजुर्ग के शादी करने की जिद का यह मामला रविवार को गांव में चर्चा का विषय बना रहा। वहीं बेटों को डर सता रहा है कि पिता के दूसरी शादी करने से उनकी पत्नी उनकी जमीन में हिस्सेदार बन जाएगी।