बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड- कई शरणदाताओं तक पहुंची पुलिस, संदिग्ध सेवादार भी रडार पर

64
खबर शेयर करें -

ऊधमसिंह नगर। बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड में सोशल मीडिया में हत्यारोपियों की वायरल पोस्ट और लोकेशन से पुलिस जांच उलझ रही है। इस मामले में एक संदिग्ध सेवादार भी पुलिस की रडार पर है। पुलिस बाहरी राज्यों में दबिश देने के साथ ही कई संदिग्धों से पूछताछ भी कर चुकी है। माना जा रहा है कि इस मामले में पुलिस को अहम इनपुट मिले हैं। पुलिस की टीम कई शरणदाताओं तक पहुंच चुकी है।

विदित हो कि 28 मार्च की सुबह बाबा तरसेम सिंह की बाइक सवार दो बदमाशों ने हत्या कर दी थी। हत्या के बाद से प्रदेशभर की पुलिस, जांच इकाइयां आरोपियों की गिरफ्तारी व हत्या के सूत्रधारों को खोजने में जुटी हैं। नानकमत्ता से लेकर यूपी, पंजाब के शहरों, गांवों में सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही हैं। बाइक सवारों की लोकेशन और शरणदाताओं को ट्रेस करने के लिए सर्विलांस टीमें भी दिन-रात जुटी हैं। आरोपियों को आर्थिक सहयोग व शरण देने वालों तक पुलिस की टीमें पहुंचने की जानकारी मिली है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड समेत इन राज्यों में 15 अप्रैल तक बिगड़ा रहेगा मौसम का मिजाज, जारी हुई यह चेतावनी

बताया जा रहा है कि यूपी के शाहजहांपुर से हत्या के आरोपियों से लगातार सम्पर्क हो रहा था। सूत्र बताते हैं कि शूटर को फंडिंग करने के एक आरोपी तक पुलिस पहुंच चुकी है। वहीं शनिवार देर रात दोनों आरोपियों पर ऊधमसिंह नगर पुलिस ने 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया। वहीं एसएसपी मंजूनाथ ने बताया कि यूपी में भी पुलिस टीम संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़ें 👉  ब्लैकमेलिंग से परेशान युवती फांसी के फंदे में झूली, सुसाइड नो‌ट हुआ बरामद

पुलिस सूत्रों के मुताबिक बाबा तरसेम सिंह की हत्या के दिन बदमाशों को उनकी लोकेशन बताने का शक एक संदिग्ध सेवादार पर है। पुलिस को उससे कई कड़ियां मिलने की उम्मीद है। संदिग्ध व्यक्ति गुरुद्वारा में सेवादार है।

वहीं सोशल मीडिया में हत्यारोपियों की वायरल पोस्ट और लोकेशन से पुलिस जांच उलझ रही है। जिस अकाउंट से सोशल मीडिया में पोस्ट की जा रही है, या लोकेशन दी जा रही है, उसकी सत्यता का पता नहीं चल पा रहा है। सूत्रों का कहना है कि हत्यारोपी काफी शातिर हैं। इसके अलावा यदि कुछ लोग हत्यारोपियों की मदद कर रहे हैं, तो उनका मकसद पुलिस की जांच को प्रभावित करना हो सकता है।