मेडिकल कॉलेज की छत से कूदी कोविड ड्यूटी में लगी मेडिकल छात्रा, प्रबन्धन पर लगाए बड़े गंभीर आरोप

138
खबर शेयर करें -

एनजेआर, शाहजहांपुर। मंगलवार शाम बंथरा स्थित वरुण अर्जुन मेडिकल कॉलेज में उस समय हड़कंप मच गया जब एक मेडिकल छात्रा ने कॉलेज के हॉस्टल की एक मंजिल से कूदकर खुदकुशी की कोशिश की। लखीमपुर जिले के पलिया की रहने वाली कल्पना ने बताया कि वह वरुण अर्जुन मेडिकल कॉलेज में नर्सिंग की छात्रा है। उसने बताया कि कॉलेज प्रशासन द्वारा जबरदस्ती कोरोना वार्ड में उसकी ड्यूटी लगा रहा है। उसे मेडिकल सुविधाएं भी नहीं दी जा रही हैं और ड्यूटी करने वालों का बीमा भी नहीं कराया गया। छात्रा कल्पना ने बताया कि ड्यूटी करने से जब वह लोग मना करते हैं तो प्रशासन उनसे जबरदस्ती ड्यूटी कर आता है, जिससे उनकी जान का खतरा बना हुआ है। छात्रा कल्पना ने बताया कि जब वह लोग रिजाइन देते हैं तो रिजाइन को स्वीकार नहीं किया जाता है और नो ड्यूज भी नहीं दिया जाता है। उसने बताया कि इसी से तंग आकर उसने मंगलवार को हास्टल से कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। छात्रा के इस कदम से कालेज प्रशासन में हड़कंप मच गया और मौके पर तमाम भीड़ लग गई। आनन-फानन में कालेज के डाक्टरों ने छात्रा को भर्ती कर उसका इलाज शुरू किया। सूचना पर एसडीएम वेद सिंह चौहान तथा कोतवाल जसवीर सिंह कालेज में पहुंचे और उन्होंने घायल छात्रा कल्पना का हालचाल लिया। इसके बाद एसडीएम ने हास्टल में रह रही कई छात्राओं के बयान भी दर्ज किए। कॉलेज प्रशासन द्वारा छात्रा कल्पना के परिजनों को सूचना दे दी गई है और वह पलिया से कालेज के लिए चल दिए।

मैं मर जाऊं तो कालेज प्रशासन को छोड़ना नहीं
हास्टल की छत से छात्रा कल्पना कूदने के बाद बेहोश हो गई। चर्चा है कि इस दौरान छात्रा कल्पना को एक बार होश आया और छात्रा ने वहां पर खड़े गार्ड तथा अन्य लोगों से कहा कि यदि मैं मर जाऊं तो कालेज प्रशासन को छोड़ना नहीं। पूरी जानकारी मेरे परिजनों को दे देना, इसके बाद छात्रा बेहोश हो गई। कालेज के कुछ लोगों ने बताया कि इससे पहले भी छात्रा हास्टल में वार्डन तथा छात्राओं का विवाद हुआ था, जिसमें कालेज प्रशासन ने वार्डन का पक्ष लेते हुए एक छात्रा को रिजाइन देने के लिए मजबूर कर दिया था। चर्चा है कि उस समय मोहम्मदी क्षेत्र की छात्रा ने मजबूरी में कालेज से रिजाइन दिया था। उस समय भी छात्रा ने कालेज प्रशासन पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। यहां तक चर्चा है कि कई छात्राओं ने सामूहिक आत्महत्या करने की भी चेतावनी दी थी।

कोतवाल जसवीर सिंह ने कहा कि वरुण अर्जुन मेडिकल कालेज बंथरा में एक छात्रा हास्टल की छत से गिरी है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। छात्रा ने खुदकुशी करने का प्रयास किया है या फिर धोखे से गिरी है। इसकी जांच की जा रही है। हास्टल में रहने वाली अन्य छात्राओं से भी पूछताछ की जा रही है। छात्रा कल्पना के परिजनों के आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी