डीएम दफ्तर में उपवास पर बैठ गए विधायक धामी, यह चेतावनी देकर उठे

158
खबर शेयर करें -

एनजे, पिथौरागढ़: आपदाग्रस्त क्षेत्र में व्यवस्थाएं बहाल होने में सरकारी देरी से नाराज धारचूला विधायक हरीश धामी शुक्रवार को डीएम दफ्तर के परिसर में उपवास पर बैठ गए। उन्होंने चेताया कि अभी भी सरकार और सरकारी तंत्र नहीं चेता तो क्षेत्र की जनता को साथ लेकर भूख हड़ताल शुरू कर देंगे।
शुक्रवार को समर्थकों के साथ दो घंटे के सांकेतिक उपवास पर बैठे विधायक धामी ने कहा कि सीमांत का विधानसभा क्षेत्र धारचूला आपदा की मार से कराह रहा है। दो दर्जन से अधिक सड़कें बाधित हैं तो गांव के लोग गांव में ही कैद होकर रह गए हैं। ग्र्रामीणों के पास आजीविका के साधन खत्म हो गए हैं, मार्ग अवरुद्ध होने से भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं। उसके बाद भी सरकारी प्रयास बहुत धीमी से गति से संचालित हो रहे हैं। यह सब राजनीतिक द्वेष भावना से किया जा रहा है। संवेदनशील गांवो के भूगर्भीय सर्वेक्षण और विस्थापन का मामला आगे नहीं बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि प्रभावित क्षेत्र में व्यवस्थाएं अविलंब बहाल की जाएं।
उनके साथ रमेश कापड़ी, मथुरा दत्त जोशी, प्रदीप पाल, मुकेश पंत, जगत मह, हिमांशु ओझा, दीपक तिवारी, करन सिंह, आशीष हावर्ट, मन्नू ठगुराठी सहित अन्य समर्थक उपवास पर बैठे। उपवास खत्म होने पर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया।

आपदा प्रभावित क्षेत्र में तेजी से कार्य कराए जा रहे हैं। अधिकांश बंद सड़कें खोल ली गई हैं। क्षतिग्रस्त सड़कों को ठीक कराने के लिए विभागीय अधिकारी आपदा प्रभावित क्षेत्रों का लगातार भ्रमण कर रहे हैं। राहत कैंपों में रखे गए प्रभावितों को हरसंभव सहायता दी जा रही है।
-डॉ. विजय कुमार जोगदंडे, जिलाधिकारी पिथौरागढ़