नाबालिग भाई-बहन ने ट्रेन के आगे कूदकर की खुदकुशी, मामूली बात से थे नाराज

90
खबर शेयर करें -

हरिद्वार। मां की डांट से नाराज होकर ज्वालापुर में नाबालिग भाई-बहन ने ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी कर ली। शुरुआती जांच में सामने आया है कि मां ने बेटी को घर का काम करने के लिए कहा था। इसी बात से बेटी नाराज हुई थी और भाई भी छोटी बहन के साथ निकल गया था। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल की मोर्चरी में भिजवा दिया हैं।

यह भी पढ़ें 👉  गंगोत्री धाम में पुलिस की इस व्यवस्था से व्यापारियों में आक्रोश, बंद की दुकानें

पुलिस के अनुसार घटना मंगलवार की रात करीब 11:05  बजे की है। जब पुलिस को सूचना मिली कि लालपुल रेलवे पटरी पर ट्रेन से टकराकर एक लड़का और लड़की की मौत हो गई है। शव पटरी के पास पड़े हैं। सूचना पाकर एसएसआई राजेश बिष्ट, एसआई प्रदीप कुमार पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। जीआरपी और आरपीएफ की टीम भी मौके पर पहुंच गई।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आसपास के लोगों को बुलाकर शिनाख्त के प्रयास किए , जिस पर साकिब और साजिद पुत्र फारुक निवासी मोहल्ला बाबर कॉलोनी पांवधोई ज्वालापुर ने मृतक की शिनाख्त भाई समीर (16), बहन अलीसवा (14) के रूप में की। दोनों भाइयों ने पुलिस को बताया कि मंगलवार की रात दोनों भाई बहन मामूली बात पर घर से नाराज होकर निकल गए थे। इसके बाद उनका कुछ पता नहीं चला। थोड़ी देर बाद घटना की जानकारी मिली।

यह भी पढ़ें 👉  पोती निकली दादी की हत्या की मास्टर माइंड, ब्लैकमेलिंग के चलते दोस्त ने घर में घुसकर की थी वारदात

पुलिस की मानें तो मृतक भाई-बहन के के पिता ट्रक चालक है और घटना के वक्त वह शहर से बाहर थे। नाबालिग भाई बहन के आत्महत्या करने से परिवार और आसपास के लोगों में कोहराम मचा हुआ है। हर कोई इस घटना को लेकर हैरान है।ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी रमेश सिंह तंवर ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया जाएंगा।