पीएम मोदी के दौरे से पहले नक्सलियों के प्लान का खुलासा, ‌भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

60
खबर शेयर करें -

देश के सबसे बड़े केंद्रीय अर्धसैनिक बल ‘सीआरपीएफ’ ने लोकसभा चुनाव से पहले छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के बड़े हमले की साजिश को नाकाम कर दिया है। नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के सुकमा में पहाड़ी की गुफा में नक्सलियों द्वारा भारी मात्रा में हथियार व विस्फोटक सामान को बरामद करने में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी मिली है। ये सफलता तब मिली है जब  8 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आमा बोल गांव में चुनावी सभा को संबोधित करने वाले हैं।

इसकी पुष्टि एसपी किरण चव्हाण ने बताया कि पुलिस को तोंड़ारमाक व डब्बामरका में नक्सलियों के होने की सूचनाएं मिल रही थी। और साथ ही गांव के जंगलों में स्थित एक पहाड़ी की छोटी सी गुफा में विस्फोटक व हथियार छुपाने की जानकारी मिली थी।

यह भी पढ़ें 👉  महिला चिकित्सक से छेड़छाड़ के बाद हड़ताल, आरोपी नर्सिंग ऑफिसर गिरफ्तार

जिसके बाद आपरेशन लांच किया जिसमें जिला बल, कोबरा 208, सीआरपीएफ 217, 212 व 241 की संयुक्त पार्टी रवाना की गई। करीब 6 से 7 किमी. पैदल चलकर जवान उस पहाड़ी के पास पहुंचे और वहां बनी छोटी सी गुफा की सर्चिग की तो भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री और हथियार बरामद हुए। जिसे लेकर जवाना वापस कैंप लौट आए।

यह भी पढ़ें 👉  दुकान बंद कर घर जा रहा था व्यापारी, रास्ते में बदमाशों ने कर दी फायरिंग, गंभीर

बरामद सामग्री में जेटिन राड (350 नग) इलेक्ट्रोनिक डेटोनेटर (105 नग) एक्सपलोजिव सामग्री, आईईडी (5 किलो) बीजीएल बम (19 नग) बीजीएल लांचर (02 नग) बीजीएल प्रोजेक्टर (22 नग) बीजीएल राउंड (04 नग) वायरलेस सैट, मोबाइल फोन, बैटरी समेत भारी मात्रा में दोनो पहाड़ियों में विस्फोटक सामग्री व हथियार बरामद हुए हैं।