अब बिना चिकित्सक अनुमति किसी भी निजी लैब में कराइए कोरोना टेस्ट, बीमार होने पर ऐसे मिलेंगी अन्य सुविधाएं।

163
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून।

प्रदेश में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या को देखते हुए सरकार ने अव किसी भी निजी लैब में जांच कराने की छूट दे दी है।जांच के लिए किसी चिकित्सक के लिखने की अनिवार्यता भी खत्म कर दी है। यही नहीं अब अगर किसी को ऐसा लगता है कि उसमें कोरोना जैसे लक्षण हैं तो उसको यह पता होगा कि वह किस अस्पताल में भर्ती हो सकता है। यह सुविधा सरकार गूगल मैपिंग के जरिये देगी।
स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने बताया कि शासन ने अब किसी भी निजी लैब में बिना चिकित्सक अनुमति टेस्ट की इजाजत दे दी है। इसके अलावा कोरोना संक्रमितों की सुविधा के लिए सभी लैब व अस्पतालों की गूगल मैपिंग की जा रही है। मरीज को हालत खराब होने पर अब पता कग सकेगा कि उसको कौन से अस्पताल में भर्ती होना है। अगर रोगी घर पर ही रहकर इलाज कराना चाहता है कि इस संबंध में भी उसको पूरा ब्रीफ किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लगाई लंबी छलांग और राष्ट्रीय स्तर पर पाया यह मुकाम