आग से झुलसी गर्भवती महिला ने तोड़ा दम, ससुरालियों के खिलाफ मुकदमा

34
खबर शेयर करें -

हरिद्वार। संदिग्ध परिस्थितियों में आग से झुलसी महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। वह आठ माह की गर्भवती थी। मामले में पुलिस ने दहेज उत्पीड़न के आरोप में पति, देवर और सास के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

पीतपुर निवासी कृष्णपाल ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि उसकी छोटी बहन प्रियंका देवी की शादी 19 दिसंबर 2022 को बहादराबाद थाना क्षेत्र के शांतरशाह निवासी गुड्डू के साथ हिंदू रीति रिवाज से हुई थी। आरोप है कि पति गुड्डू, सास कमलेश और देवर कमल आए दिन दहेज के लिए उसे प्रताड़ित करते थे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड समेत इन राज्यों में 15 अप्रैल तक बिगड़ा रहेगा मौसम का मिजाज, जारी हुई यह चेतावनी

आरोप लगाया कि पति का प्रेम प्रसंग किसी अन्य महिला के साथ भी चल रहा है। आरोप है कि उसकी बहन का लगातार मानसिक उत्पीड़न और अभद्र व्यवहार किया जा रहा था। शिकायत में बताया कि परेशान होकर सात मार्च को प्रियंका ने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली। अधजली हालत में उसे एम्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान मंगलवार को उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें 👉  बैशाखी पर्व पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, लगाई आस्था की डुबकी

बताया कि उसकी बहन आठ माह की गर्भवती थी, उपचार के दौरान पेट में उसके बच्चे की भी मौत हो गई। थाना प्रभारी नरेश राठौड़ ने बताया कि गुड्डू, कमलेश और कमल निवासी शांतरशाह के खिलाफ संबंधित धाराओं मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।