सारथी फाउंडेशन ने पेश की मिसाल, दिवाली पर इनका कराया मुंह मीठा

261
खबर शेयर करें -

 

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी : कहते हैं अमीर के लिए तो हर दिन दिवाली है, दुआ पानी है तो किसी गरीब का घर रोशन कीजिए…। समाजसेवा और रचनात्मक गतिविधियों के पथ पर काम कर रही सारथी फाउण्डेशन ने धनतेरस पर फिर ऐसी ही कुछ मिसाल पेश की। फाउंडेशन के पदाधिकारियों ने गरीबों का मुंह मीठा कराया। साथ ही उन्हें पर्यावरण को संरक्षित करने का संदेश देने वाले थैले भेंट किए।

विगत वर्ष की भांति इस वर्ष सारथी फाउंडेशन समिति ने गरीबों संग दीवाली मनाने का संकल्प लेते हुए 22 अक्टूबर को सारथी फाउंडेशन समिति की समस्त टीम राजपुरा स्थित कुष्ठ आश्रम में पहुंची।

कुष्ठ आश्रम में गरीब परिवारों के संग दीपावली का सामान एवं मिठाई बांट कर उनके साथ दीपावली मनाई। साथ ही पर्यावरण जन जागरूकता अभियान के तहत सभी को सारथी थैला भी दिया गया।

इस अवसर पर पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष सुमित्रा प्रसाद ने कहा की सारथी हमेशा समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति को समाज के साथ जोड़ने की इस मुहिम में आगे रहता है और भविष्य में भी रहेगा।

सारथी फाउंडेशन के संस्थापक संयोजक नवीन पंत ने कहा की टीम द्वारा यह निर्णय लिया गया की हम लगातार गरीबों की मदद करते रहेंगे और अपने परिवार से पहले समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति के साथ सर्वप्रथम इस त्योहार को मनाना चाहिए। उसी तरीके से हमें गरीबों के साथ दिवाली भी माननी चाहिए। साथ ही उन्होंने सारथी परिवार के सभी सदस्यों और समस्त जनता को दीपावली की बधाई भी दी।

आज के इस वितरण कार्यक्रम में नवीन पंत, सुमित्रा प्रसाद, ज्ञानेंद्र जोशी, प्रदीप सबरवाल, दिशांत टंडन,गिरीश चंद्र लोहनी,जाकिर हुसैन,मनीष पंत,दीप्ति चुफाल,नीलू नेगी,दीक्षा पांडे पंत,आनंद आर्य,राजेश भारद्वाज,संदीप बिनवाल,कैलाश चंद्र जोशी,देवीदत्त सुयाल, कैलाश बाल्मिकी, डी एस नयाल,संतोष गौड़ आदि उपस्थित रहे।