प्रेमी युवक निकला गुमशुदा युवती का हत्यारा, इस वजह से की गई वारदात

64
खबर शेयर करें -

देहरादून। गुमशुदा युवती की हत्या उसी के ही प्रेमी ने की थी। अवैध सम्बन्धों के शक के चलते इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया। इसके बाद शव को सूटकेस के अन्दर बन्द कर आशारोडी से आगे सुनसान जंगल में ठिकाने लगाया था। अभियुक्त की निशानदेही पर सूटकेस के अन्दर से युवती का सड़ा-गला शव पुलिस ने बरामद कर लिया है।

बता दें कि 29 जनवरी 2024 को शहरूल निवासी जमालपुरकला थाना कनखल जिला हरिद्वार ने अपनी बेटी शहनूर के गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। बताया कि उनकी बेटी देहरादून के संस्कृति विहार कॉलोनी में रहकर ब्यूटी पार्लर का काम करती थी जोकि 26 दिसंबर 2023 से लापता है। इस मामले में पटेलनगर कोतवाली पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज करते हुए युवती की तलाश शुरू की। जांच में पुलिस को पता लगा कि राशिद नाम का युवक युवती के साथ लिव-इन में रहता था जोकि फरार चल रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  गुलदार का आतंक- एक और बच्ची पर किया हमला, ग्रामीणों में दहशत

30 मार्च को पुलिस ने आरोपित को संस्कृत विहार कॉलोनी से गिरफ्तार किया। पूछताछ में राशिद ने बताया कि वह अपने गांव बागोवाली में मोटरसाइकिल रिपेयरिंग का काम करता था। वर्ष 2017-18 में उसकी जान पहचान इंटरनेट मीडिया के माध्यम से शहनूर से हुई। इसके बाद वह लगातार एक दूसरे से संपर्क में थे।

यह भी पढ़ें 👉  बाइक चोर गिरोह का भंडाफोड़- उत्तराखंड और उप्र में वारदातें करते थे शातिर, तीन गिरफ्तार

सितंबर 2023 में आरोपित शहनूर से मिलने देहरादून आया और दोनों आईएसबीटी के पास एक कमरा लेकर रहने लगे। 26 दिसंबर की रात को राशिद देरी से घर पहुंचा तो इसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया और आरोपित ने शहनूर का गला दबाकर हत्या कर दी।
इसके बाद आरोपित ने शहनूर के एटीएम कार्ड से 17000 रुपये निकाले व लालपुर स्थित विशाल मेगा मार्ट से एक बड़ा सूटकेस खरीदकर लाया। उसने युवती के शव को सूटकेस में डाला और स्कूटी की पिछली सीट में बांधकर आशारोड़ी के जंगल में फेंककर फरार हो गया।