गौला नदी में खनन का लक्ष्य इतने दिन में पूरा होने की संभावना, हो चुकी इतनी निकासी

25
खबर शेयर करें -

उत्तराखंड की प्रमुख गौला नदी में खनन को लेकर बड़ी अपडेट सामने आई है। यहां निकासी गेटों में 36 लाख 60 हजार 429 घन मीटर नदी में खनन कार्य कर लिया गया है। जो लक्ष्य के बहुत निकट है। ऐसे में अब कुछ ही दिनों में निकासी बंद होने की संभावना जताई जा रही है।

गौरतलब है कि गौला नदी में इस वर्ष केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने 38 लाख 19 हजार घन मीटर लक्ष्य की स्वीकृति दी थी। जिसके सापेक्ष्य खनन लक्ष्य के करीब पहुंच चुका है। तराई पूर्वी वन प्रभाग के गौला वन क्षेत्रधिकारी चंदन सिंह अधिकारी ने बताया कि क्षेत्रीय ग्रामीण के हक हकूक को लेकर गौला नदी से हक्कू के परमिट जारी कर दिए गए हैं, जो क्रेशर और हक- हकूक के लिए साथ-साथ चलेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  बाइक चोरी का खुलासा- पुलिस ने गिरफ्तार किए दो शातिर चोर

अब करीब नदी में खनन सत्र के लिए 2 लाख घन मीटर से कम ही नदी में खनन लक्ष्य बचा है। प्रतिदिन करीब 44 हजार घन मीटर खनन निकासी हो रही है। संभावना व्यक्त की जा रही है कि अब नदी में करीब 3 से 4 दिन के लिए गौला में खनन निकासी संभव हो पाएगी। वैसे भी क्रेशर स्वामियों द्वारा 15 तारीख के बाद माल न लेने का नोटिस लगा दिया गया है। जिससे संभावना व्यक्त की जा रही है यह खनन सत्र 20 तारीख से ऊपर नहीं जा सकता।