spot_img

राजकीय महाविद्यालय सतपुली में ‘नशे को न जिंदगी को हां’ पर कार्यशाला

पौढ़ी-गढ़वाल। राजकीय महाविद्यालय सतपुली में शनिवार 22 फरवरी 2020 को महाविद्यालय की एंटी ड्रग समिति तथा स्थानीय पुलिस प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में नारी सुरक्षा तथा नशा मुक्ति शीर्षक पर एक संगोष्ठी हुई। थाना सतपुली के उप निरीक्षक कैलाश सेमवाल ने छात्राओं को महिलाओं के ऊपर हो रहे अत्याचारों एवं अपराधों के बारे में बताया। साथ ही पुलिस विभाग किस मुस्तैदी के साथ इन अपराधों को दूर करने में लगा है। इसकी जानकारी दी। महिला अपराध से संबंधित भारतीय दंड संहिता में क्या-क्या प्रावधान है।

इस बारे में जानकारी दी। डॉ. ऋतुराज पंत ने कहा कि अधिकांश अपराधों का कारण नशा होता है। हमें अपना जीवन नशा मुक्त बनाते हुए “नशे को ना और ज़िन्दगी को हां” के सिद्धांतों पर चलना चाहिए। अंत में महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य प्रोफेसर राकेश इष्टवाल ने छात्राओं को नशे के दूरगामी परिणामों से अवगत करवाया और योग के माध्यम से अपने जीवन को एक आदर्श जीवन बनाने के लिए जोर दिया। उन्होंने कहा कि जब मानव का मस्तिष्क शुद्ध होगा नशा मुक्त होगा तभी किसी भी प्रकार के अपराध पर रोक लगाई जा सकती है और एक ऐसे अच्छे राज्य की कल्पना की जा सकती है जहां नारियों का सम्मान हो। कार्यक्रम में डॉ पूजा, डॉ दीप्ति, डॉ अवधेश, डॉक्टर संत कुमार, शंभूलाल गुड्डी देवी, अर्चना, मनीष, अर्जुन सिंह आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Articles

error: Content is protected !!