ऑनलाइन कमाई का झांसा देकर युवक को लगा दिया लाखों का चूना

41
# (cheating of one and a half lakh from the Additional District Judge)
खबर शेयर करें -

उत्तराखंड में साइबर ठगी के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। ताजा मामला ऊधमसिंह नगर के रूद्रपुर का है। यहां ऑनलाइन कमाई का झांसा देकर युवक से सवा छह लाख रुपये ठग लिए। पीड़ित की शिकायत पर ट्रांजिट कैंप थाना पुलिस ने साइबर ठग के खिलाफ केस दर्ज किया है।

वार्ड 39 जगतपुरा निवासी दीपक नैनवाल ने पुलिस को दी तहरीर में कहा कि 27 अप्रैल की सुबह अज्ञात नंबर से उसके मोबाइल पर कॉल आया था। कॉलर ने खुद को एक कंपनी का प्रतिनिधि बताते हुए ऑनलाइन काम करने का लालच दिया। उसकी हामी के बाद कॉलर ने उसे टेलीग्राम ग्रुप में जोड़कर ज्वाइनिंग कमीशन के रूप में 200 रुपये का भुगतान किया। 28 अप्रैल को उसे टास्क देकर सात हजार रुपये जमा कराए गए और धनराशि लाभ सहित दस हजार रुपये होने की बात कही गई। जब उसने रुपये निकालना चाहा तो गलती बताकर खाता सीज कर दिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  बाइक चोरी का खुलासा- पुलिस ने गिरफ्तार किए दो शातिर चोर

इसके बाद खाता शुरू कराने के लिए 27,450 रुपये का भुगतान कराया गया और फिर से 1,88,000 रुपये जमा कराए गए। उसकी ओर से जमा की गई धनराशि को लाभांश सहित डेशबोर्ड पर 3,36,000 रुपये दर्शाया गया। जब उसने रुपये निकालने चाहे तो गलती बताकर खाता दोबारा सीज कर दिया गया। इसके बाद खाता शुरू कराने के लिए 3,76,000 रुपये मांगे गए। उसने बताए गए खातों में आरटीजीएस व यूपीआई के माध्यम से राशि जमा कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  चारधाम यात्रा पर भीड़ पर रहे फोकस, श्रद्धालुओं की क्षमता का रखें ध्यानः एडीजी

इसके बाद राशि को लाभांश सहित 8,61,000 रुपये दर्शाया गया। धनराशि बड़ी होने का हवाला देकर चार बार में आहरित करने का निर्देश दिया गया। इसके तहत प्रथम आहरित धनराशि 5000 रुपये उसके खाते में भुगतान कर दिया गया। जब उसने 2,25,000 रुपये आहरित करना चाहा तो उसकी गलती दर्शाकर फिर खाता सीज कर दिया। उससे धनराशि निकालने के लिए 8,95,000 रुपये का भुगतान करने का निर्देश दिया गया। इस पर उसे ठगी का संदेह हुआ और उसने भुगतान करना बंद कर दिया। 28 अप्रैल से 30 अप्रैल तक उसने 6,25,900 रुपये बताए गए बैंक खातों और यूपीआई आईडी में ट्रांसफर किए थे। पुलिस ने केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।