13 लाख वाहन मालिकों के पास पहुंचेगा 10 हजार का चालान, कहीं आपका भी नाम तो नहीं

5695
# Ban on entry of diesel vehicles in Delhi
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में उन लाखों वाहन मालिकों पर बड़ी मुसीबत आने वाली है, जिन्होंने अभी तक वाहनों की प्रदूषण जांच नहीं कराई है। ऐसे लोगों को दिल्ली परिवहन विभाग ई-चालान भेजने की तैयारी में है। विभाग की ओर से अगले सप्ताह से नोटिस के बाद लोगों को घर पर ही ई-चालान भेजा जाएगा। इसी हफ्ते ई-कोर्ट के गठन की प्रक्रिया भी पूरे होने के संभावना है। उसके बाद वाहनों की प्रदूषण जांच नहीं कराने वालों को ई-चालान जारी किया जाएगा।

मीडिया रिपोर्टस् के मुताबिक, दिल्ली में अभी 13 लाख से अधिक वाहन हैं जिन्होंने अपने वाहन की प्रदूषण जांच नहीं कराई है। ऐसे वाहनों को मार्क कर रोजना कुछ नोटिस जारी किए जा रहे हैं। वाहन मालिकों को नोटिस मिलने के सात दिन के अंदर प्रदूषण की जांच करानी होगी। अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो 10 हजार का ई-चालान भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  वनों की आग बुझाने के लिए रिस्पॉन्स टाइम हो कम से कमः सीएम

इधर, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण प्रतिबंधित वाहनों पर जुर्माना बढ़ाकर दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे को सुरक्षित बनाने की योजना बना रहा है। एक्सप्रेस वे दोपहिया और तिपहिया वाहनों को चलने की अनुमति नहीं देता है। एनएचएआई स्थानीय अधिकारियों के साथ, एक्सप्रेसवे पर अन्य प्रतिबंधित वाहनों के साथ ही दोपहिया और तिपहिया वाहनों को रोकने के प्रयास में ट्रैफिक फाइन 20 गुना बढ़ाने की योजना बना रहा है। डीएमई पर इस यातायात नियम का उल्लंघन करने पर इस समय 1,000 रुपये का जुर्माना लगता है। एनएचएआई और स्थानीय पुलिस अधिकारियों को लगता है कि इस समय जुर्माना 1,000 रुपये से बढ़ाकर 20,000 रुपये करने से दोपहिया और तिपहिया वाहनों को दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे से दूर रखने में मदद मिलेगी। बढ़े हुए जुर्माने पर अंतिम फैसला इस महीने के दूसरे हफ्ते से पहले होने की उम्मीद है। जल्द ही नया नियम लागू हो जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  वनों की आग बुझाने के लिए रिस्पॉन्स टाइम हो कम से कमः सीएम

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।