एक प्रवासी मजदूर ने सोनू सूद के नाम पर रखा अपने बच्चे का नाम, इंडियाज़ बेस्ट डांसर में खुलासा

एनजेआर, मुम्बई। सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन का पॉपुलर शो इंडियाज़ बेस्ट डांसर अपने बेहतरीन कॉन्टेंट और जबर्दस्त मनोरंजन के चलते दर्शकों को बहुत पसंद आ रहा है। इस शो के टॉप 10 कंटेंस्टेंट्स अपने कोरियोग्राफर्स के साथ मिलकर अपनी बेस्ट परफॉर्मेंस दे रहे हैं, जिन्हें जज गीता कपूर, मलाइका अरोड़ा और टेरेंस लुइस परख रहे हैं। इस वीकेंड स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर यह शो आज़ादी स्पेशल थीम सेलिब्रेट कर रहा है जिसमें गेस्ट बनकर पहुंचे सोनू सूद का जोरदार स्वागत किया गया। सोनू सूद इस समय प्रवासी मजदूरों के मसीहा बने हुए हैंए जिन्होंने अपने नेक कार्यों से लोगों की मदद की है।

इस शो में कंटेस्टेंट श्वेता वारियर ने एक ऐसा स्पेशल एक्ट प्रस्तुत कियाए जिसने सभी का दिल चुरा लिया और साथ ही जजों और होस्ट के साथ.साथ सोनू सूद को भी भावुक कर दिया। केरल से आईं श्वेता ने कोरियोग्राफर भावना के साथ मिलकर ‘तू ना जाने आस पास है खुदा’ गाने पर परफॉर्म किया जिसमें एक ऐसी गर्भवती प्रवासी महिला मजदूर की कहानी है जो महामारी के शुरुआती महीनों के दौरान फंस जाती है और फिर पैदल चलकर अपने घर वापस जाने का फैसला करती है।

असल जिंदगी में भी ऐसी ही एक घटना हो चुकी है और तब सोनू इस गर्भवती महिला की मदद के लिए आगे आए थे। जब इस एक्टर को इस घटना के बारे में पता चला था तब उन्होंने उस महिला को उसके घर तक पहुंचाने में मदद की थी। श्वेता और भावना की परफॉर्मेंस ने जहां सभी को भावुक कर दिया वहीं सोनू सूद ने खड़े होकर उन्हें सम्मानित दिया।

यह देखकर सोनू की आंखों में आंसू भर आए और उन्होंने कहा, मैंने असल जिंदगी में ऐसी स्थिति देखी है। यह एक्ट बड़ी खूबसूरती से दर्शाया गया है। इस चुनौतीपूर्ण वक्त में मैंने कई प्रेग्नेंट महिलाओं से बात की है और ऐसी महिलाओं से भी, जिनके बच्चे सिर्फ दो-तीन दिन के ही हैं। वो मुझसे एक ही चीज पूछती थीं कि क्या मैं उन्हें उनके घर वापस पहुंचने में मदद कर सकता हूं। वे आज सुरक्षित घर पहुंच चुकी हैं और आज भी मुझे तस्वीरें भेजती हैं। वो एक बिलकुल अलग अनुभव था। मैं मानता हूं कि मैं तीन महीने पहले जो था उसकी तुलना में आज मैं एक अलग इंसान हूं। मुझे हजारों मैसेजेस और ईमेल मिलते हैं और मैं ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने की कोशिश करता हूं। मुझे लगता है कि सभी को आगे बढ़कर हर संभव तरीके से मदद का हाथ बढ़ाना चाहिए। यह बहुत जरूरी है और सिर्फ तब ही हमारा देश इस स्थिति से बाहर आ सकता है। इस परफॉर्मेंस ने मुझे उन दिनों की याद दिला दी और मैं नहीं चाहता कि ऐसी स्थिति दोबारा हो। आपके एक्ट के लिए धन्यवाद।

यह सुनकर गीता मां भी भावुक हो गईं और उन्होंने कहा, आपने लोगों के लिए बहुत कुछ किया है। मेरी ओर से आपको और आपके परिवार को आशीर्वाद। आपकी वजह से इतने सारे लोग अपने घर सुरक्षित पहुंच चुके हैं। मैं उन सभी लोगों की तरफ से आपको धन्यवाद देना चाहूंगी। श्वेता और भावना आपका भी शुक्रिया कि आपने हमें यह खूबसूरत एक्ट दिखाया। इसी तरह मलाइका भी काफी इमोशनल हो गईं और उन्होंने दोनों के काम के लिए उन्हें धन्यवाद देते हुए कहाए श्सोनू ने जरूरतमंद लोगों तक पहुंचने के लिए फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओंए पुलिसकर्मी और स्वास्थ्य कर्मियों की तरह निस्वार्थ भाव से बिना रुके काम किया है। मुझे इसकी खुशी है और यह कहते हुए गर्व होता है कि मैं सोनू सूद को जानती हूं। इस एक्ट की बात करें तो मैंने वाकई इस तरह के एक्ट की उम्मीद नहीं की थी। जहां सोनू ने बीते चार महीनों तक इस तरह की घटनाओं को अपने सामने होते देखा हैए वहीं आपने इन पलों को अपने एक्ट के जरिए पेश किया है। आपने वाकई हमें भावुक कर दिया। यही डांस का पावर है। मैं इस शो में एक लड़की का पावर देखकर बेहद खुशी महसूस कर रही हूं।

सोनू सूद को यह जानकर बहुत आश्चर्य हुआ कि इंडियाज़ बेस्ट डांसर की टीम बिहार की उस महिला के पास पहुंची थीए जिस पर यह एक्ट आधारित था। एक वीडियो कॉल में इस महिला और उसके पति ने सोनू के इस नेक कदम के बारे में बताया। यहां तक कि उन्होंने अपने बच्चे का नाम भी सोनू के नाम पर रखा है। उनके बच्चे का नाम है सोनू चौधरी और उन्होंने वीडियो कॉल में इस बच्चे की झलक भी दिखाई। सोनू भी इस बच्चे को देखकर और उसके मां.बाप से बात करके काफी इमोशनल हो गए।

देखिए इंडियाज़ बेस्ट डांसर, हर शनिवार और रविवार रात 8 बजे, सिर्फ सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन पर!

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*