अनुशासनहीनता के शिकार विधायक तक पहुंची ‘बंसी’ की आवाज

159
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, चम्पावत

चम्पावत जिले के लोहाघाट सीट से भाजपा विधायक पूरन सिंह फर्त्याल तक आखिरकार भाजपा प्रदेशाध्यक्ष की आवाज पहुंच ही गई। अब विधायक अपना पक्ष 27 अगस्त को प्रदेश मुख्यालय में उपस्थ्ति होकर रखेंगे। विदित रहे कि विधायक फर्त्याल को पार्टी ने काफी समय से अनुशासनहीनता के दायरे में रखा है। इनके अलावा द्वाराहाट सीट से विधायक महेश नेगी पर भी अनुशासनहीनता की तलवार लटक रही है। जिसमें दोनों को प्रदेशाध्यक्ष ने 24 अगस्त को प्रदेश मुख्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा था। नेगी ने पहुंचकर अपना पक्ष रखा था, लेकिन लोहाघाट से भाजपा विधायक पूरन सिंह फर्त्याल का मोबाइल स्वीच ऑफ आता रहा। वह पहुंचे भी नहीं थे। प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने मंगलवार को उन्हें फिर से फोन करके अपना पक्ष रखने के लिए कहा था, विधायक ने 27 अगस्त को भाजपा प्रदेश मुख्यालय में प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष प्रस्तुत होने को कहा है। विधायक फर्त्याल को इससे पहले 24 अगस्त के लिए अपना पक्ष रखने के लिए बुलाया गया था। मोबाइल स्विच ऑफ आने पर अध्यक्ष बंशीधर भगत ने नोटिस भेजने की तैयारी कर ली थी। फर्त्याल पर अपनी ही पार्टी की सरकार के कामकाज पर सवाल उठाने का आरोप है तो नेगी पर एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है।