बेटी सो गई मौत की नींद, रोता-बिलखता पिता बोला…हुजूर, मरी नहीं उसे मरने के लिए उकसाया गया है

196
खबर शेयर करें -

एनजेआर, रुद्रपुर : निजी अस्पताल की स्टाफ नर्स की मौत मामले में पिता की गुहार ने नया मोड़ दे दिया है। पुलिस से मिले मृतका के पिता ने रोते-बिलखते बताया कि, हुजूर मेरी बेटी ने जब विवाह का प्रस्ताव रखा तो उसके प्रेमी और प्रेमी के बहन-बहनोई ने आत्महत्या के लिए उकसाया है। इसीलिए उसने मौत को गले लगा दिया। बुजुर्ग पिता की गुहार पर पुलिस ने प्रेमी और उसके बहन-बहनोई के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है। साथ ही प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।
हल्द्वानी दमुवाढूंगा निवासी प्रेमा मेडिसिटी अस्पताल में स्टाफ नर्स थी। वह तीन साल से अस्पताल में कार्यरत थी और किराए पर रहती थी। बुधवार सुबह आठ बजे जब प्रेमा की सहेली नर्स कमरे में गई तो वह बेहोश मिली थी। इस पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। मृतका के पिता दिवानी राम ने पुलिस को तहरीर देकर पूरी घटना खोल दी। उनका कहना था कि उनकी पुत्री का अस्पताल में कार्यरत सलमान डेविड प्रीत निवासी डिवाइन सिटी तीन पानी रुद्रपुर से प्रेम प्रसंग था। जब उसकी पुत्री ने उस पर विवाह के लिए दबाव बनाया तो सलमान डेविड, उसके जीजा और बहन मुकर गए। आरोप है कि उन्होंने उनकी पुत्री को आत्महत्या के लिए विवश किया। पिता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने तीनों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर लिया है।