60 स्कूलों को बम की धमकी- मचा हड़कंप, वापस भेजे बच्चे, सर्च ऑपरेशन

28
खबर शेयर करें -

दिल्ली- एनसीआर के करीब 60 स्कूलों में बम होने की सूचना मिली है। इससे से हड़कंप मचा हुआ है। एक ही ईमेल के जरिए इन सभी स्कूलों में बम की धमकी भेजी गई है। सर्च ऑपरेशन जारी है। दिल्ली पुलिस ने पैरेंट्स से अपील की है कि वे घबराएं नहीं। सभी 60 स्कूलों के छात्र-छात्राओं को वापस घर भेज दिया गया है। परीक्षाओं पर रोक लगा दी गई है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल जांच में जुट गई है।

दिल्ली फायर सर्विस ने बताया कि स्कूलों में बम की धमकी के संबंध में अभी तक 60 से अधिक कॉल आए हैं। डीसीपी नई दिल्ली देवेश कुमार महला ने बताया, ‘घबराने की जरूरत नहीं है। हमने सभी स्कूलों की जांच की है और कुछ नहीं मिला है।’ उन्होंने सभी अभिभावकों से पैनिक नहीं करने की अपील की है। वहीं दिल्ली पुलिस ने बताया कि बम की धमकी भेजने वाले ईमेल का आईपी एड्रेस पता लगाया जा रहा है। अभी तक पता नहीं चल सका है कि किसने और कहां से यह ईमेल भेजा है।

यह भी पढ़ें 👉  दुकान बंद कर घर जा रहा था व्यापारी, रास्ते में बदमाशों ने कर दी फायरिंग, गंभीर

दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद के सिल्वर लाइन प्रेस्टीज स्कूल और फादर एग्नेल स्कूल के बच्चों को वापस घर भेज दिया गया है। अभिभावक इस खबर से घबरा गए हैं। सूचना मिलते ही बम निरोधक दस्ता, दिल्ली पुलिस और दमकल की गाड़ियां सभी स्कूलों में पहुंची। ‘एनडीटीवी’ की रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 60 स्कूलों में धमकी भरे ईमेल भेजे गए। मदर मेरी स्कूल में एग्जाम चल रहा था, बीच में ही परीक्षा को रोक दिया गया। स्कूल ने इमरजेंसी घोषित करते हुए सभी को बाहर निकलने के लिए कहा। इससे पैनिक का माहौल बन गया।

यह भी पढ़ें 👉  नाकाम हुआ मंसूबा- एमडी परीक्षा में नकल कराते पांच गिरफ्तार, दो डॉक्टर भी शामिल, बनाया गया था ग्रुप

पुलिस का कहना है कि एक साथ स्कूलों में पैनिक क्रिएट करने के मकसद से यह धमकी दी गई है। इसमें सिर्फ शरारती तत्व ही शामिल नहीं हैं, बल्कि किसी संदिग्ध संगठन का हाथ भी हो सकता है। इस बात के मद्देनजर दिल्ली पुलिस की एंटी टेरर यूनिट स्पेशल सेल पूरी गहनता से ईमेल के सर्वर की लोकेशन की जांच करने में जुट गई है। स्पेशल सेल सूत्रों के मुताबिक कई मेल की सर्वर की लोकेशन देश के बाहर की आ रही है। यह सुनियोजित साजिश के तहत दी गई धमकी लगती है। पुलिस का कहना है कि हर पहलू से जांच जारी है।