महिला की हत्या के रहस्य से पुलिस ने उठाया पर्दा, इस वजह से की गई हत्या

51
खबर शेयर करें -

उत्तराखंड के गढ़वाल मंडल में हुए महिला हत्याकांड से पुलिस ने पर्दा उठा दिया है। इस मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी खच्चर संचालक ने जोर-जबरदस्ती का विरोध करने पर महिला को मौत के घाट उतार दिया।

रुद्रप्रयाग एसपी डॉक्टर बिशाखा भदाणे ने मामले का खुलासा किया। बताया कि बीती 25 अप्रैल को देवर गांव की रहने वाली महिला जंगल में घास लेने गई थी, लेकिन देर शाम तक भी जब वो नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की। पुलिस के मुताबिक परिजनों को महिला अचेत अवस्था में पड़ी मिली। उसके हाथ, पैर, सिर और चेहरे पर गंभीर चोट के निशान थे। पहले आशंका जताई जा रही थी कि महिला पर किसी जंगली जानवर ने हमला किया है और उसी वजह से उसकी मौत हुई है, लेकिन जब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई तो साफ हुआ कि उसकी हत्या की गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  द्वितीय केदार भगवान श्री मदमहेश्वर के कपाट विधि-विधान के साथ खुले

पीएम रिपोर्ट से खुलासा हुआ कि महिला की मौत सिर में गंभीर चोट लगने और अत्यधिक खून बहने से हुई है। 27 अप्रैल को महिला के मायके वालों ने गुप्तकाशी थाने में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस जांच में सामने आया कि खच्चर हांकने का काम करने वाला महावीर सिंह कठैत निवासी रुद्रप्रयाग जिले के ही बिजराकोट गांव महिला की मौत के बाद से लापता है। हालांकि काफी खोजबीन के बाद वो पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

यह भी पढ़ें 👉  दुकान बंद कर घर जा रहा था व्यापारी, रास्ते में बदमाशों ने कर दी फायरिंग, गंभीर

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि 25 अप्रैल को महिला जंगल में अकेली थी, जहां वो उसके साथ जोर-जबरदस्ती करने का प्रयास कर रहा था, लेकिन महिला ने इसका विरोध किया, तभी गुस्से में आकर महावीर ने महिला के सिर पर पत्थर से हमला कर दिया और गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। आरोपी ने अपने खून से सने कपड़ों को जंगल में छुपा दिया और वहां से फरार हो गया था, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी गांव में जनवरी माह से रह रहा था और खच्चर हांकने का काम करता था।