चारधाम यात्रा की तिथि घोषित, सरकार ने जारी की एसओपी, कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट होगी जरूरी

देहरादून। काफी कसमकस के बाद सरकार ने एक जुलाई से चारधाम यात्रा खोलने का निर्णय ले लिया है। मगर इसमें कुछ शर्तें भी जोड़ी गई हैं। एक जुलाई से चमोली, रुद्रप्रयाग व उत्तरकाशी जिलों के निवासियों को ही धामों में दर्शन करने की अनुमित होगी। उन्हें कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट साथ ले जानी होगी। इसके बाद 11 जुलाई से अन्य जिलों के लोगाें के लिए भी चारधाम यात्रा खोल दी जाएगी। इसमें भी कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी की गई। सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने यह जानकारी दी।

23 को हाई कोर्ट में होनी है सुनवाई, लगाई थी फटकार

चारधाम यात्रा को लेकर हाई कोर्ट में एक याचिका को लेकर सुनवाई भी चल रही है। पिछली सुनवाई में उच्च न्यायालय ने प्रदेश की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था व चार धाम यात्रा पर पर्यटन सचिव दलीप जावलकर को फटकार लगाई थी। इस दौरान उनके द्वारा चार धाम यात्रा के सम्बन्ध में पेश किए गए शपथपत्र से कोर्ट सन्तुष्ट नही हुई थी।तब कोर्ट ने आदेश दिया था कि 21 जून तक चारधाम की नई एसओपी जारी कर समस्त रिकार्ड के साथ नया शपथपत्र पेश करे। कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 23 जून की तिथि नियत की थी। 23 जून को ही मुख्य सचिव, स्वास्थ्य सचिव व एडिशनल पर्यटन सचिव को भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पेश होने को कहा था।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*