कांग्रेसियों को धोने पड़े सफाई कर्मियों के पैर, आखिर क्या था ऐसा मामला। जानें

164
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को भाजपा स्टाइल में विरोध प्रदर्शन किया। इन लोगों ने हाथरस में हुई दलित बेटी की हत्या के मामले में सफाई कर्मियों के पैर धोए।
बुधपार्क में सैकड़ों की संख्या में जुटे यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सफाईकर्मियों के पैर धोकर भाजपा का विरोध किया। युवा कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष गुरूप्रीत सिंह प्रिंस ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पूर्व पीएम मोदी ने सफाई कर्मियों के पैर धोकर खुद को उनका सबसे बड़ा हितैषी बताया था। मगर हाथरस में दलित परिवार की बेटी संग हुई दरिंदगी पर उन्होंने एक शब्द नहीं कहा। इससे पता चलता है कि भाजपा का दलित प्रेम महज दिखावा हैं।
बुद्ध पार्क में जुटे कांग्रेसियों ने कहा कि पीएम को उनके वादे याद दिलाने के लिए विरोध का यह तरीका अपनाया। जिलाध्यक्ष गजेंद्र गौनिया ने कहा कि हाथरस में पुलिस और प्रसाशन ने असंवेदनहीनता का परिचय दिया। सरकार के इशारे पर आधी रात को उसका शव जला दिया गया।
इस दौरान राजेंद्र रावत, हेमंत कुमार, जीवन बिष्ट, लाल सिंह, रोहित, हर्षित जोशी, रिजवान, सालिम सिद्दीकी, अंकित परिहार, मानस बेलवाल, जीत सिंह, आशीष, प्रदीप बिष्ट, अरविंद कुमार आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रधानमंत्री मोदी का चुनावी प्रबंधन देखने वाले नेता को उत्तराखंड में मिली यह बड़ी जिम्मेदारी...