नैनीताल में मां नंदा-सुनंदा की प्रतिमा स्थापित, दर्शन के लिए ब्रह्ममुहूर्त से ही उमड़ने लगे श्रद्धालु

411
# Nanda Devi Festival
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, नैनीताल। सरोवर नगरी में नंदा महोत्सव (Nanda Devi Festival) का आज चौथा दिन है। श्रीराम सेवक सभा की ओर से आयोजित इस महोत्सव में आज मां नंदा-सुनंदा की प्रतिमा की स्थापना कर दी गई। मां नंदा-सुनंदा को हिमालय पुत्री माना जाता है। केले के तने से तैयार की गई मां की प्रतिमा के दर्शन के लिए ब्रह्ममुहूर्त से ही भक्त उमड़ने लगे। नयना देवी मंदिर परिसर के भव्य मंडप में स्थापित मूर्तियों पर भक्तों ने फूल पाती, चुनरी चढ़ाकर धन धान्य की मन्नत मांगी।

कल पूरे दिन मां (Nanda Devi Festival)  की प्रतिमा तैयार करने का सिलसिला चला। पीले कपड़े, रंग, केले के तने, बांस और श्रृंगार के सामान से तैयार की गई मां नंदा-सुनंदा की प्रतिमा की स्थापना शनिवार देर रात की गई। रात्रि दो बजे पुरोहित भगवती प्रसाद जोशी ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ देवी पूजा संपन्न कराई, जिसके बाद मूर्तियों को आम श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ मंडप में प्रतिष्ठापित कर दिया गया। जिसके बाद से ही श्रद्धालुओं का दर्शन को इंतजार खत्म हुआ। कोरोना महामारी के दो साल बाद आयोजित महोत्सव को लेकर इस बार भक्तों में अत्यधिक उत्साह है।

यह भी पढ़ें 👉  यहां नदी में गिरी कार- दो भाईयों समेत चार की गई जान

सुबह से ही मंदिर के बाहर तक भक्तों की कतार लगी है। पुलिस के साथ ही आयोजक संस्था के स्वयंसेवक व्यवस्था बनाने में जुटे हैं। मेले में पशुबलि पूरी तरह प्रतिबंधित है। मेलाधिकारी राहुल साह तथा धारी एसडीएम योगेश मेहरा इस पर नजर रखे हैं। श्रद्धालुओं को मंदिर में पूजा के बाद बकरों को लौटाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड समेत इन राज्यों में 15 अप्रैल तक बिगड़ा रहेगा मौसम का मिजाज, जारी हुई यह चेतावनी

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।