गेट मीटिंग में कर्मचारियों ने दे दिया प्रदेश सरकार को यह अल्टीमेटम, हल्द्वानी में यहां जुटे कर्मचारी नेता

231
खबर शेयर करें -

 

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी : विभिन्न मांगों को लेकर हल्द्वानी में उत्तराखंड अधिकारी कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति के बैनर तले कर्मचारियों का गेट मीटिंग अभियान जारी है। आज वन विभाग के तिकोनिया स्थित वन विभाग के कार्यालय के सम्मुख गेट मीटिंग की गई। राजकीय शिक्षक संघ की उपाध्यक्ष श्रीमती संगीता जोशी ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी को एकजुट होकर संघर्ष करना चाहिए।

श्री जगदीश बिष्ट जिला संयोजक ने कहा 20 सितंबर को लोक निर्माण विभाग तिकोनिया में होने वाले धरना प्रदर्शन में अधिक से अधिक संख्या में सदस्यों द्वारा प्रतिभाग करना चाहिए।

वक्ताओं श्री धीरेन्द्र कुमार पाठक जिला संयोजक, संरक्षक देवेन्द्र बोरा, श्रीमती संगीता जोशी उपाध्यक्ष राजकीय शिक्षक संघ जनपद नैनीताल ने कहा कि सरकार को बीस सूत्रीय मांगों पर शासनादेश जारी करना चाहिए और शिथिलीकरण को बहाल करना चाहिए। शिथिलीकरण बहाल नहीं होने से विसंगति उत्पन्न होगी।

धीरेन्द्र कुमार पाठक जिला संयोजक संरक्षक ने कहा कि सरकार हठधर्मिता पर उतारू हैं इसे किसी भी दशा बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। लोकतांत्रिक मूल्यों को स्थापित करना भी सरकार की जिम्मेदारी है। पुरानी पेंशन को भी हर हाल में बहाल किया जाना चाहिए।

आज के कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री चन्द्रशेखर सनवाल ने की और कहा कि सभी को एकजुट होकर सरकार के नादिरशाही फैसले का विरोध करना चाहिए। संचालन करते हुए श्री नाजिम सिद्दीकी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सरकार द्वारा कर्मचारी विरोधी फैसले लिए जा रहे हैं। इनका पूर्ण विरोध किया जायेगा।

उनके द्वारा यह भी आरोप लगाया गया कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी महासंघ द्वारा छठे वेतनमान का पूर्ण रूप से लाभ नहीं दिये जाने केन्द्रीय फिटमेंट तालिका के अनुरूप 1800 ग्रेड वेतन का लाभ नहीं दिये जाने का प्रकरण वेतन विसंगति के समक्ष उठाया गया था। जिस पर वेतन समिति द्वारा कोई निर्णय नहीं लिया गया जो कि बहुत दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है।

आज के कार्यक्रम में डिकर सिंह पडियार सचिव प्राथमिक शिक्षक संघ नैनीताल, मोहन राम आर्य प्रदेश उपाध्यक्ष, सुरेश यादव संगठन मंत्री, हरीश सिंह मटियाली, राजेन्द्र पाठक, संजय सनवाल , विपिन मसीह हरिकेश भारती प्रांतीय महामंत्री, खीम सिंह नगदली, रमेश गिरी, राजेन्द्र सिंह बिष्ट, रघुवीर सिंह बिष्ट, देवेन्द्र सिंह बिष्ट,प्रेम चन्द्र पांडेय, निर्मल बिष्ट गीता अस्वाल, सुनील कुमार आर्य, रमेश सिंह नेगी, सुरेन्द्र कुमार,कमला देवी प्रेमा, हीरामणि यादव , चन्द्र सिंह शाही मंजु बिनवाल रोहिणी आर्या मंजू बिष्ट ,चरन लाल , मुन्नी, मनोज कुमार, सुरेश गिरी उमाशंकर, देवेन्द्र मेहता आदि उपस्थित थे।