बरेली कांड : प्यार को पाने के लिए मंदिर भी गया, तिलक भी लगाया। बालिग होते ही प्रेमिका को लेकर फरार हुआ बिलाल

179
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, बरेली।

किला इलाके की हिन्दू लड़की को गैर सम्प्रदाय का युवक बिलाल बहला फुसला कर भगा ले गया। दो साल पहले इसी युवक पर लड़की ने छेड़छाड़ का आरोप लगाकर पुलिस में शिकायत की थी। इसके बाद उनके बीच कब प्यार पनपा, इसकी भनक तक किसी को नहीं लगी। बिलाल घोसी उसके बालिग होने का इंतजार करता रहा। लड़की के 18 के होते ही वह उसे भगा ले गया। लड़की घर में रखा 8 लाख रुपये कैश और जेवर भी ले गई। बिलाल लड़की के साथ सातवीं तक पढ़ा था। आठवीं में वह फेल हो गया। इसके बाद उसने दूध दही का पैतृक कारोबार संभाल लिया। इधर, लड़की बीएससी कर रही है।

बिलाल हिन्दू दोस्तों के साथ उनकी तरह ही बनकर रहता था। वह मंदिर जाता था और माथे पर तिलक और चंदन भी लगाता था। उसके हाथ में कलावा बंधा रहता था। लड़की के परिजनों के मुताबिक दो साल पहले बिलाल ने उनकी बेटी के साथ छेड़खानी की थी और उन्होंने पुलिस से इसकी शिकायत भी की थी लेकिन तब पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की थी। लड़की के पिता ने उनकी बेटी को गुमराह कर हत्या किये जाने की आशंका जताई है।

बिलाल व लड़की के पीछे दिल्ली पहुंची पुलिस

सोमवार को लड़का और लड़की की लोकेशन हल्द्वानी में मिली थी। मंगलवार सुबह पुलिस ने उन्हें दिल्ली में ट्रैक किया। इसके बाद दो दरोगाओं के साथ आठ पुलिस कर्मी दिल्ली पहुंच गये। पुलिस साकेत कोर्ट के बाहर थी। जबकि लड़का और लड़की वकीलों के साथ अंदर थे। बरेली में किला थाने में जब उन्हें बवाल की सूचना मिली तो वकीलों ने उनके मोबाइल नंबर बंद करवा दिये। जिसकी वजह से उनकी लोकेशन मिलनी बंद हो गई। बाद में लड़की और लड़का बुरका पहनकर कोर्ट से फरार हो गये। बवाल न होता तो पुलिस लड़की को बरामद कर लेती।