मां तो मां होती है, एक बेटे ने मां की सपोर्ट से मौत को हराया

354
खबर शेयर करें -

 

News junction 24.com

ऋषिकेश: मां की ममता होती ही ऐसी है, जिसका कोई तोड़ नहीं है। आज ऋषिकेश एम्स में इसका उदाहरण सामने भी आ गया। मौत से जूझ रहे बेटे को एक मां ने अपनी किडनी देकर उसे फिर जीवनदान दे दिया।

गुर्दा प्रत्यारोपण के इस नए मामले में बेटे का जीवन बचाने के लिए मां ने ही बेटे को अपनी किडनी दान दी है। एम्स में किडनी ट्रांसप्लांट का यह दूसरा मामला है, जो पूरी तरह से सफल रहा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी रोडवेज स्टेशन में बस के अंदर फटा बैटरा, बड़ा हादसा टला

मूलरूप से दिल्ली के नंगला गांव का रहने वाला 32 वर्षीय सचिन वर्तमान में देहरादून स्थित सीमा सड़क संगठन कार्यालय में तैनात है। पिछले तीन वर्षों से किडनी की समस्या से परेशान सचिन का लंबे समय से डायलिसिस चल रहा था। रोगी ने मई 2022 में एम्स के नेफ्रोलाजी विभाग से संपर्क किया और विशेषज्ञ चिकित्सकों को अपनी बीमारी के बारे में बताया।