लॉकडाउन में नौकरी जाने पर फल का ठेला लगाने लगा दामाद तो सास ने उठा लिया इतना खौफनाक कदम

न्यूज जंक्शन 24, बरेली : लॉक डाउन में युवक की नौकरी क्या गई उसकी तो जिंदगी में नरक हो गया। पैसों की दिक्कत हुई तो वह फल का ठेला लगाने लगा। झगड़कर बीवी मायके चली गई। समझौता कराने के लिए सास ने बुलाया। आरोप है कि कोल्डड्रिंक में उसे जहर दे दिया। इलाज के दौरान बरेली में उसकी मौत हो गई।

बरेली के गणेशनगर नेकपुर निवासी प्रेमपाल ने बताया कि उनका बेटा गोविंद (25) प्राइवेट जॉब करता था। लॉक डाउन में नौकरी चली गई। घर में खर्चे को लेकर पत्नी से विवाद बढ़ा तो वह चौपला पुल के नीचे फल का ठेला लगाने लगा। प्रेमपाल ने बताया कि उनके बेटे की शादी 30 अक्टूबर 2017 को बदायूं कटरा निवासी हरिशचंद्र की बेटी पल्लवी से हुई थी। शादी के बाद सब कुछ ठीक चल रहा था। 2019 में रक्षाबंधन के दौरान उनकी बहू पल्लवी राजी खुशी अपने मायके गोविंद के साथ बदायूं गई थी। इसी दौरान दोनों के बीच रास्ते में कुछ विवाद हो गया। इसके बाद पल्लवी की मां चेतना ने बेटी को ससुराल भेजने से मना कर दिया। जिसके बाद से वह अपने मायके रह रही थी। वहीं पीड़ित ने बताया कि दोनों परिवारों के बीच बातचीत के दौरान तय हुआ कि किसी तीसरे के घर बैठकर इस विवाद को सुलझायेंगे। 25 अगस्त को वह अपने साले व पल्लवी की मां चेतना के चचिया ससुर उमाशंकर के घर गये थे। इसी दौरान उनके बेटे की सास कोल्ड ड्रिंक लेकर आई और उसे पिते ही गोविंद को खून की उल्टी होने लगी। आनन-फानन उसे बदायूं के ही निजी अस्पताल में भर्ती कराया और बाद में बरेली ले आये। बुधवार को उसने दम तोड़ दिया। आरोप है कि बेटे की तबियत बिगड़ने के बाद से ही उसके ससुरालियों ने कोई पुरसाहाल नहीं लिया। पीड़ित ने गोविंद की पत्नी पल्लवी, सास चेतना, ससुर हरिशचंद के साथ ही उसके तहेरे साले पर हत्या का आरोप लगाया है। वहीं सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने शव को कब्जे में कर उसका पोस्टमार्टम कराया है। वहीं पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोविंद के शरीर में जहर के लक्षण मिले हैं।

पुलिस बोली- बदायूं जाओ वहां लिखेंगे मुकदमा

गोविंद के पिता प्रेमपाल ने बताया कि उन्होंने पूरे घटनाक्रम की तहरीर सुभाषनगर पुलिस को दी थी। जिसने उनके बेटे के पोस्टमार्टम के बाद मुकदमा लिखने से मना कर दिया। वहीं बदायूं जाकर तहरीर देने को कहते हुये बोले की बदायूं की घटना है और वहीं मुकदमा लिखा जायेगा। पीड़ित प्रेमपाल का कहना है कि वह इस संबंध में आलाधिकारियों से मिलकर बातचीत करेंगे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*