72 दिनों के बाद खुला रामनगर का गर्जिया देवी मंदिर, उमड़े श्रद्धालु, मगर मंदिर समित ने जताई नाराजगी, जानिए क्यों

रामनगर। 72 दिनों से बंद रामनगर स्थित गर्जिया देवी मंदिर मंगलवार से श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया। सुबह छह बजे से ही श्रद्धालु मंदिर आने लगे थे। हालांकि मंदिर खोलने को लेकर यहां के पुजारी और मंदिर समिति के सदस्य एक राय नहीं हैं। समिति के सदस्यों का कहना है कि पुजारी ने बिना समिति से राय लिए ही मंदिर खोल दिया। इस पर उन्होंने नाराजगी भी जताई है।

कोविड संक्रमण की वजह से 24 अप्रैल से गिरिजा देवी मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद था। श्रद्धालु मंदिर खुलने के इंतजार में थे। मंदिर समिति कोविड कर्फ्यू खत्म होने के इंतजार में थे। लेकिन जुलाई में फिर कोविड कर्फ्यू बढ़ा दिया गया। बीते दिनों प्रसाद विक्रेता भी एसडीएम से मंदिर खोलने की मांग कर चुके हैं। मंदिर के प्रधान पुजारी मनोज पांडे ने मंगलवार से मंदिर खोलने की तैयारी कर ली। उनके द्वारा इंटरनेट माध्यमों से भी मंदिर खोलने की जानकारी साझा की गई। सुबह से ही श्रद्धालु मंदिर पहुंचने लगे थे।

इस दौरान सौ से अधिक श्रद्धालुओं ने कोसी नदी में डुबकी लगाने के बाद मां गिरिजा देवी के दर्शन किए। इस बीच कई लोग नदी में भी नहाने के लिए उतरने लगे। मन्दिर से लोगों को अनाउंस कराकर नदी में नहीं जाने के लिए कहा गया। मंदिर बिना समिति की मर्जी से खोलने पर पदाधिकारियों ने एसडीएम व प्रधान पुजारी से नाराजगी भी जताई है। उनका कहना है कि मन्दिर खोलने का फैसला मिल बेठकर लिया जाता तो ठीक रहता।

खबरों से रहें हर पल अपडेट :

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*