हल्द्वानी की बेटी प्रियांशी रोटेरियन बनीं, एशिया में लिटरेसी लाने के लिए जुड़ने जा रही हैं इस बड़े मिशन से

178
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, हल्द्वानी : शहर की बेटी प्रियांशी पाठक रोटरी क्लब हल्द्वानी की पहली युवा महिला सदस्य बनीं हैं। महानगर की जानीमानी हस्ती रोटेरियन श्रीष पाठक की पुत्री प्रियांशी ने चयन पर खुशी जताते हुए कहा कि उनका सपना है कि वह साउथ एशिया के लिटरेसी मिशन से जुड़ें। ताकि 2025 तक सौ फीसद लिट्रेसी लाने के चल रहे अभियान में हिस्सेदारी कर सकें।
उन्होने इसी वर्ष एमबीए (एच. आर) एमीटी यूनिवर्सिटी से (गोल्ड मैडल) में प्राप्त की तथा ग्रेजुएशन डिग्री मीडिया एंड मास कम्यूनिकेशन (गोल्ड मेडल) की उपाधी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्राप्त की है। प्रियांशी पाठक अपने पिता रो. श्रीष पाठक तथा रोटरी सदस्यों से व रोटरी के कार्यो से प्रेरित रही है। उन्होने बचपन से रोटरी को महसूस किया है।
तथा बचपन से पिता के सानिध्य में सामाजिक कार्यों की प्रेरणा ली है । पूर्व में प्रियांशी रोटरी इंटरनेशनल के इंटरैक्ट, रोटरेक्ट क्लब की सदस्या भी रहीं हैं ।
वह रोटरी के माध्यम से शिक्षा में लिंग भेद को समाप्त करना चाहती हैं, तथा प्रौण शिक्षा को भी बढ़ावा देना चाहती है। रोटरी इंटरनेशनल द्वारा किये जा रहे सामाजिक कार्यो से जुड़ कर रोटरी को नये आयामों तक पहुँचाने का एक संकल्प लिया है । प्रियांशी ने रोटरी में युवाओं की भागीदारी को भी बढ़ाने के लिए अपील की है। वर्तमान में रोटरी हल्द्वानी में 55 सदस्य हैं। रोटेरियन रमेंश शर्मा (अध्यक्ष), विनोद गणकोटी (सचिव), मनोज शाह (इन्टरसिटी मीट चैयरमैन), अनिल जोशी (असिसटैट गवर्नन), प्रवीन रौतेला (डिस्ट्रिक सैक्रेटरी, एबौर्ड), अशोक मित्तल, बी. के. शर्मा एवं रोटरी डिस्ट्रिक्ट गवर्नर रो. दिनेश शुक्ला ने शुभकामनाएं दी तथा सभी ने प्रियांशी को पूर्ण सहयोग के लिए आश्वस्त किया ।

यह भी पढ़ें 👉  पुलिस कांस्टेबल की पत्नी से की थी टप्पेबाजी, अन्तर्राज्यीय गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार