यूनियन बैंक के साथ घोटाला, उत्तराखंड के चार लाख खाताधारकों से बैंक ने की ये अपील

238
# Scam with Union Bank
खबर शेयर करें -

न्यूज जंक्शन 24, देहरादून। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की अगुवाई में 17 बैंकों के समूह के साथ 34,615 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी (Scam with Union Bank) का मामला सामने आने के बाद अब उत्तराखंड के खाताधारकों के लिए यूनियन बैंक की आरे से अपील जारी की गई है। उत्तराखंड क्षेत्रीय कार्यालय उप महाप्रबंधक लोकनाथ साहू ने अपने सभी खाताधारकों से अपील की है कि उनका पैसा सुरक्षित हाथों में है। अगर इस तरह के घोटाले कहीं पर होते हैं तो बैंक अपने सभी हितों को सुरक्षित रखते हुए आगे बढ़ता है।

उप महाप्रबंधक और उत्तराखंड में यूनियन बैंक के रीजनल ऑफिसर लोकनाथ साहू ने बताया कि उत्तराखंड में यूनियन बैंक के तकरीबन 4 लाख अकाउंट होल्डर हैं। उनका कहना है कि यूनियन बैंक के किसी रीजन में अगर इस तरह का घोटाला हुआ है, तो उसका इस रीजन से कोई लेना देना नहीं है। ऐसे में खाताधारकों के हित और उनका पैसा सुरक्षित है। यूनियन बैंक के खाताधारकों को बिल्कुल भी डरने की जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड समेत इन राज्यों में 15 अप्रैल तक बिगड़ा रहेगा मौसम का मिजाज, जारी हुई यह चेतावनी

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Scam with Union Bank) के गढ़वाल मंडल के रीजनल ऑफिस देहरादून के उप महाप्रबंधक लोकनाथ साहू ने बताया कि यूनियन बैंक की गढ़वाल मंडल में 68 ब्रांच हैं। चार लाख से ज्यादा अकाउंट होल्डर हैं। उन्होंने बताया कि यूनियन बैंक उत्तराखंड के सभी दुर्गम इलाकों तक लंबे समय से अपनी सेवाएं दे रहा है। पहाड़ों पर लिक्विड मनी के लिए रिमोट एरियाज में एटीएम भी स्थापित किए गए हैं। चारधाम यात्रा रूट पर भी यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के सभी एटीएम को 24 घंटे फुल रखा जाता है, ताकि किसी भी तरह से यात्रियों को कोई परेशानी ना हो।

यह भी पढ़ें 👉  ब्लैकमेलिंग से परेशान युवती फांसी के फंदे में झूली, सुसाइड नो‌ट हुआ बरामद
ये है मामला

सीबीआई ने दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (डीएचएफएल), तत्कालीन चेयरमैन और प्रबंध निदेशक कपिल वधावन, निदेशक धीरज वधावन और रियल्टी क्षेत्र की छह कंपनियों को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के नेतृत्व वाले बैंकों के समूह के साथ कथित तौर पर 34,615 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के लिये आपराधिक साजिश में शामिल होने को लेकर मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने बैंक से 11 फरवरी 2022 को मिली शिकायत के आधार पर कार्रवाई की है। ये एजेंसी की जांच के दायरे में आई अब तक की सबसे बड़ी बैंक धोखाधड़ी है। अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई आरोपियों के मुंबई स्थित 12 ठिकानों की तलाशी ले रही है।

से ही लेटेस्ट व रोचक खबरें तुरंत अपने फोन पर पाने के लिए हमसे जुड़ें

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें 👉  नदी में डूबने से दो युवकों की मौत, शव बरामद

हमारे यूट्यब चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।

हमारे फेसबुक ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें।