जिस एटीएम में गार्ड नहीं होते वहां कार्ड की क्लोनिंग के लिए शिकार ढूंढते थे यह ठग, एक नए तरीके की ठगी की बात भी कुबूली

लखनऊ। पुलिस ने एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है जो एटीएम कार्ड की क्लोनिंग कर लोगों के खाते साफ कर रहा था। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वह ऐसे एटीएम मशीन की तलाश करते थे जहां गार्ड ड्यूटी पर ना हो वहां एटीएम पर आने वाले नासमझ कस्टमर को बातों में में उलझा कर उनके कार्ड का क्लोन बना लेते थे। आरोपियों के पास से कार्ड की क्लोनिंग करने वाला सामान, पेचकस, लैपटॉप व कई एटीएम कार्ड बरामद हुए।

पुलिस ने बताया कि चारों ठगों की पहचान प्रतापगढ़ निवासी मोहम्मद वसीम, अजीज अहमद उर्फ मुन्ना, आनंद बहादुर सिंह उर्फ सोहन, संजय यादव के रूप में हुई है आरोपियों ने बताया की वह एक नए तरीके से भी ठगी कर रहे थे। आरोपी एटीएम के कीपैड पर उन्होंने एक पिननुमा चीज फंसा देते थे जब कोई एटीएम से रुपये निकालने की प्रक्रिया शुरू करता था। चार नम्बर का पिन डालने के बाद रुपये डिस्पेंसर तक ही आ पाते थे। संबंद्धित व्यक्ति एटीएम में गड़बड़ी समझकर चला जाता था। जबकि, उसके अकॉउंट से पैसे कट जाते हैं। उसके जाते ही पिननुमा चीज निकालकर मशीन में फंसे पैसे बाहर आ जाते थे। पुलिस उनके और साथियों के बारे में पूछ्ताछ कर रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*